Pageviews past week

Saturday, June 22, 2013

patrode/ पत्रोड़े



पत्रोड़े  अरवी के पत्तों और पालक के पत्तों से बनायाजाता है और नास्ते में बहुत  पसंद किया जाता है और इसे अलग -अलग जगह अलग-अलग तरह से बनाया जाता है । कुछ लोग उरद दाल से और कुछ लोग चावल के आटे से और कुछ बेसन के साथ बनाते हैं ,
patrode is a vegetarian snacks dish made from  colocasia leaves.  stuffed with rice flour, urad dal paste, chana dal paste or gram flour, flavoring with spices and lemon juice or tamarind juice.

इसमें लगने वाली सामिग्री इस प्रकार है -------
  1. अरवी के छोटे और मुलायम पत्ते १२  नग .
  2. जलजीरा पाउडर १ बड़ा चम्मच .
  3. अदरक,लहसुन,और हरी मिर्च की पेस्ट १ बड़ा चम्मच ,
  4. बेसन 8  बड़े चम्मच .
  5. लाल मिर्च पाउडर और नमक स्वादानुसार .
  6. इमली की पेस्ट १ बड़ा चम्मच .
  7. तेल तलने के लिए .

ingredients---------

  • Colocasia leaves 12 no
  • jal jeera powder 1 tbsp
  • ginger,garlic and green chili paste 1 tbsp
  • gram flour 8 tbsp
  • red chili powder to taste
  • salt to taste
  • tamarind paste 1 tbsp
  • oil for frying
विधि------
  1. पत्तों को अच्छी तरह धोकर कपडे से पोंछ कर अलग रखें .
  2. अब बेसन में तेल के अतिरिक्त सारी सामिग्री को डालकर गाढा  घोल तैयार करें ।
  3. अब इस मिश्रण को अरवी के एक पत्ते पर उलटी तरफ से फैलाते हुए लगायें ,इसके ऊपर दूसरा पत्ता रखें और फिर यही क्रम दोहराते हुए ६ पत्तों पर एक साथ और ६ पत्तों पर  एक साथ लगायें .
  4.  अब इन पत्तों को रोल करें और ररोल के ऊपर भी मिश्रण को फैलाते हुए लगा दें .
  5. स्टीमर में पानी रखें और अरवी के रोल को भाप में १ ० मिनट के लिए पकाएं .
  6. ठंडा होने पर थोडा मोटा गोल-गोल आकार में कटें .
  7. कढ़ाही में तेल गरम कारें और पत्रोड़े को गुलाबी और कुरकुरा होने तक तल लें .
  8. गरमागरम चाय के साथ सर्व करें .। 

method----------

  • wash and soak the leaves. 
  • make a thick  batter with all ingredients instead off oil .

  • now spread the mixture on leaves one by one ..........


  • roll the leaves carefully and steam in steamer for 10 to 12 minutes 
  • cut into round heat the oil in a pan and fry the patode golden .
  • serve hot with green chutney .

नोट-----यदि मिश्रण कम पड़ रहा हो तो और बना लें । इमली की जगह नीबू का रस या अमचूर मिला सकते हैं ।