Pageviews past week

Wednesday, July 31, 2013

Besan ke laddoo/ बेसन के लड्डू




Besan laddo is an easy and popular sweet dish which is made all over India. It is made from gram flour, deshi ghee and sugar flavor with cardamom powder.


  • Preparation time--10 minutes
  • Cooking time 25 minutes
  • Serves - 6
  • Type--dessert 





 Ingredients :-       

  1. Gram flour 2 cup
  2. Deshi ghee 1 cup 
  3. Sugar 1 cup
  4. Green cardamom 6 nos
  5. Almonds 2 tbsp
  6. Chopped pistachio for garnish

Method:-

  1. Heat ghee in a pan and fry besan till it turns brown. Stir it rapidly on low heat. 
  2. Grind sugar and almond together. 
  3. Now mix both mixture and make laddo.
  4. Garnish with pistachio 

 

सामिग्री:-

  • मोटा वाला बेसन २ कप . 
  • देशी घी १ कप 
  • चीनी १ कप  . 
  • इलाइची पाउडर ६ नग 
  • बादाम २ बड़े चम्मच . 
  • पिस्ता कटा हुआ सजाने के लिए 

 विधि:-


  • कढ़ाही में घी गरम करें और बेसन को गुलाबी  होने तक भूनें, लगातार चलाते हुए धीमीं आंच पर ही भूने . 
  • चीनी को बादाम और इलाइची के साथ पीस लें। 
  • अब भुना बेसन और चीनी का मिश्रण मिलाकर लड्डू बना लें. 
  • पिस्टे से सजाएं। 


Note:-

  • If you like to add some food flavor, you can add a pinch of yellow food color. Add almond as per your will.  If there is problem in keeping the laddo in shape then you can add more ghee.


नोट---

अगर आप खाने वाला रंग डालना चाहें तो १ चुटकी खाने वाला पीला रंग भी मिला सकते हैं . बादाम इच्छानुसार मिला सकते हैं, लड्द्दू बाँधने में अगर परेशानी हो तो घी मिला लें .

Wednesday, July 24, 2013

chana dal with pumpkin/काशीफल और चने की दाल




Ingredients :-

  • 2 Cup chana dal
  • 250 gram pumpkin
  • salt to taste
  • 1 tbsp red chili powder
  • 1 tbsp turmeric powder
  • 2 tbsp chopped onion
  • 1 tbsp chopped ginger
  • 1 tsp chopped green chili
  • 2 chopped tomatoes 
  • 1 tsp heeng'
  • 2 whole red chili
  • 1 tbsp cumin seeds
  • 1 raw mango (optional )
  • 2 tbsp ghee/ clarified butter
  • coriander for garnish 


Method:-
  • Clean wash and soak the dal for 10 minutes, meanwhile peel the pumpkin wash and cut into small deices. peel and cut the mango into two.
  • Put the dal and pumpkin in pressure cooker with 2 glass water and bring it to a boil.
  • After a boil remove the dirt and add turmeric powder, red chili powder, salt and 2 cup water.
  • Cook the dal on slow heat for 20 minutes or until the dal gets softened, switch of the gas.
  • Heat the ghee in a pan add cumin as they change the color add ginger, green chili and onion fry till light golden.
  • Add broken red chili, heeng, mango pieces and tomatoes, cook until tomatoes gets soft and oil separates.
  • Add  cooked dal stir and mix it well.boil it for 3-4 minutes and switch of the heat.
  •  Garnish with coriander leaves, Serve hot with chapati or dal chawal.                                                                                                  

सामिग्री:-

  • २ कप चने की दाल 
  • २५० ग्राम सीताफल 
  • नमक स्वादानुसार 
  • १ बड़ा चम्मच लाल मिर्च पाउडर 
  • १ बड़ा चम्मच हल्दी पाउडर 
  • २ बड़े प्याज़ बारीक कटे 
  • १ बड़ा चम्मच अदरक बारीक कटी 
  • १ छोटा चम्मच हरी मिर्च बारीक कटी 
  • २ बारीक कटे टमाटर 
  • १ छोटा चम्मच हींग 
  • १ छोटा चम्मच जीरा 
  • २ साबुत लाल मिर्च 
  • १ कच्चा आम 
  • २ बड़े चम्मच देशी घी 
  • हरा धनिया सजाने के लिए 

 बनाने की विधि:-

  • सबसे पहले दाल को साफ़ कर के धो लें और १० मिनट के लिए भिगो दें, तब तक कद्दू को छीलकर धो लें और छोटे टुकड़ों में काट लें साथ ही आम को भी छीलकर दो टुकड़ों में काट लें ,
  • अब दाल को २ ग्लास पानी और कद्दू के साथ उबलने के लिए रखें जैसे ही एक उबाल आए उसके ऊपर की गन्दगी को निकाल दें। 
  • हल्दी पाउडर, लाल मिर्च पाउडर, नमक और दो कप पानी डालकर दाल के गल जाने तक दाल को पका कर गैस बंद कर दें ,
  • एक पैन में घी गरम करें और जीरा चटका कर अदरक, हरी मिर्च और प्याज़ की सुनहरा भूनें।
  • सूखी लाल मिर्च तोड़कर, हींग आम और टमाटर डालें २ बड़े चम्मच पानी के साथ टमाटर को गलने तक पका लें 
  • अब इसमें पकी हुई दाल डालें अच्छे से मिलाकर ३ से ४ मिनट तक उबाल लें.
  •  गैस बंद कर दें। 
  • धनिया पत्ती से सजा कर गरमागरम चपाती या फिर दाल चावल के साथ परोसें. 

नोट:-

  • कच्चा आम आप अपनी पसंद के अनुसार मिलाएं ,
  • दाल को भिगोने से जल्दी और अच्छी तरह से गलेगी। 


sehatmand masale

भारतीय रसोई सेहत का खजाना है ये  जितना ही स्वाद को बढ़ाते हैं उतने ही हमारे शरीर के लिए भी  लाभदायक हैं ,हर  मसाले में अपना अलग औषद्दीय गुण मौजूद है , जो सेहत के लिए वरदान का काम करते हैं .
  • हल्दी-------

    • हल्दी एंटीओक्सिडेंट   है ,इसमें कारकुमीन नाम का तत्व एंटी क्लोटिंग का काम करता है . 
    • इसमें मौजूद कारकुमीन खराब कोलोस्ट्राल के स्टार को कम करता है . 
    • जोड़ो के दर्द में हल्दी बहुत राहत दिलाती है . 
    • गुम चोट पर हल्दी चूने और शहद का लेप लगाने से आराम मिलता है और खून को जमने से रोकता है . 
    • सूजन की जगह पर भी इस लेप को लगाने से आराम मिलता है . 
    • गठिया के दर्द में हल्दी ,सोंठ ,और मेथी पाउडर तीनों की बराबर मात्रा का सेवन करने से आराम मिलता है . 

    धनिया ---

    • धनिया में मौजूद लिनामूल और डेक्रोनाईट एसिड ,खराब कोलोस्ट्राल की मात्रा को नियंत्रित करता है साथ ही शुगर की मात्रा को भी नियंत्रित करता है . 
    • डायरिया होने पर सूखा धनिया पाउडर पानी में घोल कर छान कर पिलाने से आराम मिलता है . 
    • गठिया की समस्या में धनिया का काढ़ा फायदा देता है . 

    काली मिर्च ----

    • काली मिर्च ,सफ़ेद मिर्च दोनों ही फायदेमंद हैं .लल मिर्च की जगह काली मिर्च का सेवन हृदय रोगियों के लिए फायदेमंद होता है . 
    • कफ़ होने पर काली मिर्च और तुलसी  की   पत्ती को उबाल कर काढा बनाएं और दिन में २ बार पिलाने से आराम मिलता है . 
    • सफ़ेद मिर्च २ बड़े चम्मच ,बादाम ४ बड़े चम्मच ,  और २ बड़े चम्मच   मिश्री  को पीस कर पाउडर बनाएं ,प्रातिदिन १ चम्मच देशी घी के साथ लेने से आँखों की रौशनी बढ़ती है . 

    अदरक ----

    • अदरक का इस्तेमाल आयुर्वेद में अत्यधिक होता है . इसके इस्तेमाल से मुंह के इन्फेक्शन दूर होते हैं . 
    • अदरक का रस हृदय के रोगियों के लिए बहुत लाभदायी है क्योकि ये रक्त में खून के थक्के जमने से रोकता है . 
    • अदरक पाचन तंत्र को मजबूत रखता है . 
    •   खांसी होने पर अदरक का रस नमक के साथ लेने से बहुत जल्द आराम मिलता है . 

    मेथी ----

    •   मेथी   दाना रक्तचाप में तो आराम दिलाता ही है साथ हाई ब्लड शुगर को भी नियंत्रित करता है .
    • शुगर के लिए मेथी दाना या भीगे हुए मेथी के दाने खाने से आराम मिलता है . 
    •  इसमें कैल्शियम, फास्फोरस, आयरन और विटामिन सीकी प्रचुर मात्रा होती है . 
    •  बुखार आने पर मेथी  दाने  की चाय बनाकर पीने से आराम मिलता है .
    • मेथी की पत्तियों की सब्जी पाचन प्रणाली को ठीक बनाए रखती है। 
    • मेथी में कैल्सियम की मात्रा बहुत होती है जो प्रसूता के लिए बहुत फायदेमंद होता है . 
    • बालों के लिए मेंहंदी भिगोने में मेंहंदी भी मिला कर भिगोयें और लगायें बालों को झड़ने से रोकता है .        
    •  
    • दालचीनी -----

      • दालचीनी माउथवाश का काम करने में बहुत सहायक है . 
      • गले में खराश हो तो दालचीनी चूसें आराम मिलेगा . 
      • दालचीनी की चाय हृदय रोगियों के लिए बेहत सेहतमंद है .     

      लहसुन-----

      • लहसुन बैड कोलोस्ट्राल घटाने में मददगार है . 
      • गठिया के लिए जो सिर्फ एक गांठ वाला लहसुन है बहुत लाभदायक है . प्रातः १ लहसुन की गांठ पानी के साथ लेने से गठिया में आराम मिलता है . 
      • ब्लास प्रेशर को भी नियंत्रित करता है . साथ ही गैस ,अपच के लिए भी लहसुन बेहत लाभदायी है . 

      जायफल -----

      • सुपारी की तरह दिखने वाला सुगन्धित जायफल बच्चों को ठण्ड से बचने में सहायक होता है . यदि बच्चे को ठण्ड के कारण दस्त आ रहे हों तो केवल एक बार(१ बूँद से भी कम ) घिस कर दूध के साथ पिलाने से आराम मिलता है .
      • त्वचा पर पड़ने वाली झाइयों और दाग धब्बों से निजात पाने के लिए जायफल को घिस कर चेहरे पर लगायें और ५ मिनट बाद ठन्डे पानी से धो लें . 
      • आँखों के नीचे काले निशान को मिटाने के लिए रात में जायफल का पेस्ट लगाकर सो जायें
      • आंखों के नीचे काले घेरे हटाने के लिए रात को सोते समय रोजाना जायफल का लेप लगाएं और सूखने पर इसे धो लें। कुछ समय बाद काले घेरे खुद-ब-खुद हट जाएंगे। - See more at: http://www.onlymyhealth.com/jayfal-laabhkari-hai-twacha-ke-liye-1330081126#sthash.XZkV3oTQ.dpuf
      आंखों के नीचे काले घेरे हटाने के लिए रात को सोते समय रोजाना जायफल का लेप लगाएं और सूखने पर इसे धो लें। कुछ समय बाद काले घेरे खुद-ब-खुद हट जाएंगे। - See more at: http://www.onlymyhealth.com/jayfal-laabhkari-hai-twacha-ke-liye-1330081126#sthash.XZkV3oTQ.dpuf

Tuesday, July 23, 2013

pumpkin chilka with rice flour

हमारे घर में जब भी लौकी ,कद्दू या तोरी आती है तो  उसके छिलके जरूर  बनते हैं ,जो खाने में  इन सब्जियों से भी ज्यादा पसंद किया जाता है  . खासकर मेरी सासु माँ को छिलके ही पसंद हैं ,वो कभी भी लौकी ,कद्दू नहीं खाती हैं .आज मैंने कद्दू के छिलके बनाये हैं और यहाँ मैं उसकी रेसिपी शेयर करने जा रही हूँ …

सामिग्री------

  • 1/2 किलो कद्दू के मोटे-मोटे छिलके . 
  • नमक स्वादानुसार . 
  •  लाल मिर्च पाउडर २ छोटे चम्मच 
  • . हल्दी पाउडर १ छोटा चम्मच .
  • धनिया पाउडर २ छोटे चम्मच . 
  • अमचूर पाउडर १ छोटा चम्मच . 
  • अदरक ,लहसुन की पेस्ट २ छोटे चम्मच . 
  • प्याज़ की पेस्ट १ बड़ा चम्मच . 
  • चावल का आटा २ बड़े चम्मच . 
  • गरम मसाला पाउडर १/२ छोटा चम्मच . 
  • तेल तलने के लिए . 

ingredients------

  • pumpkin skin 1/2 kg
  • salt to taste
  • red chili powder 2 tsp
  • turmeric powder 1 tsp
  • dry mango powder 1 tsp
  • ginger,garlic paste 2tsp
  • onion paste 1 tbsp
  • rice flour 2 tbsp
  • garam masala powder 1/2 tsp
  • oil for frying 

विधि------

  • छिलकों को धो कर छोटे टुकड़ों में काट कर १ गिलास पानी के साथ हल्का गलने तक उबाल लें . 
  • चावल के आटे में तेल को छोड़कर सारे मसालों को अच्छी तरह मिला लें . 
  • अब छिलकों को पानी से निकाल कर इसमें मिलाएं 
  •  तेल को गरम करें और छिलकों को गुलाबी होने तक तल कर किचन -पेपर पर निकाल लें . 
  • गरमागरम दाल चावल या पराठों के साथ सर्व करें .

method---------

  • wash and cut into small pieces the pumpkin skin ,boil with 1 glass water for 10 minutes.
  • mix salt,red chili powder,turmeric powder,dry mango powder,ginger,garlic,onion paste,garam masala powder and rice flour.
  • mix the boiled pumpkin skin in the mixture.
  • heat the oil and fry the pakoda till golden.
  • serve hot with dal-chawal. 

नोट---इसी तरह लौकी के छिलके भी बनाये जा सकते हैं  इसे नास्ते में स्नेक्स की तरह भी खाया जा सकता है ,छिलकों को अधिक न गलाएँ नहीं तो करारापन नहीं आएगा …….


ambaar (kedondong or Ambra) ka achaar

अम्बार या आम्बरा गर्मियों में मिलने वाला एक खट्टा फल है ,जो आम की ही तरह दिखने में होता है और आम की ही तरह खट्टा भी .ये आम से थोड़ा छोटा होता है , इसका अचार भी आम की ही तरह बनाया जाता है और खाने में बहुत अच्छा लगता है  , अचार का नाम आते ही मुंह में पानी आ जाता है ,और तरह -तरह के अचार घर में हों तो मेहमानों को खिलाना भी बहुत अच्छा लगता है .  यहाँ मैं अम्बार के अचार की रेसिपी डाल रही हूँ और  आशा करती हूँ आप सभी अच्छी लगेगी .

सामिग्री------

  1. अम्बार १ किलो . 
  2. हल्दी पाउडर २ बड़े चम्मच . 
  3. लाल मिर्च पाउडर १ बड़ा चम्मच .
  4.  कश्मीरी मिर्च पाउडर १  छोटा चम्मच . 
  5. सौंफ (मोटी) २ बड़े चम्मच . 
  6. मेथी दाना १ छोटा चम्मच
  7. नमक १/१/२ बड़े चम्मच . 
  8. कलौंजी १ छोटा चम्मच . 
  9. काला नमक  १/२ छोटा चम्मच . 
  10. चीनी १ छोटा चम्मच . 
  11. सरसों का तेल ४ बड़े चम्मच . 
  12. हींग पाउडर १ छोटा चम्मच . 
  13. धनिया साबुत १ बड़ा चम्मच . 

Ingredients--------

  • ambaar or aambra 1 kg 
  • turmeric powder 2 tbsp
  • red chili powder 1 tbsp
  • kashmiri chili powder 1 tsp
  • fennel 2 tbsp
  • fenugreek seeds 1 tsp
  • salt 1/1/2 tbsp
  • onion seeds 1 tsp
  • black salt 1/2 tsp
  • sugar 1 tsp 
  • mustard oil 4 tbsp
  • astofida 1 tsp
  • whole coriander 1 tbsp

विधि-------

  1. अम्बार को पानी से धो कर कपडे से सुखा कर बीच से काट कर दो भागों में करें और इसके बीज निकाल दें . 
  2. सौंफ  ,धनिया और मेथी को सूखा ही कढ़ाही में भून कर निकाल लें  . और मिक्सी में पीसें (बहुत महीन न करें ) 
  3. अब तेल को कढ़ाही में गर्म करें और ठंडा करें . 
  4. अब इस तेल में सारे मसाले अच्छी तरह से मिला लें . 
  5. मसाले में अम्बार को अच्छी तरह से मिलाएं और जार में रख कर ढक्कन लगाकर धूप में १ हफ्ते  के लिए रखें . 

method-------

  • wash and cut into two the ambaar .
  • dry roast the coriander ,fennel,fenugreek seeds. coarsely grind in grinder .
  • now heat the oil in pan cool it.
  • mix all the spices in the oil .
  • mix the spices in ambaar,keep in a air tight container.
  • keep the pickle in sun for a week . 
नोट ----- मसाले अपने स्वाद के अनुसार कम या बढ़ा सकते हैं , १ हफ्ते में अचार खाने के  लिए तैयार हो जाएगा,अगर अम्बार १ किलो से ज्यादा ले रहे हों तो इसमें तेल की मात्रा बढ़ा दें .

note-----add the spices as you required ....

Sunday, July 21, 2013

egg roll

  मैं नॉन -वेज नहीं खाती हूँ मगर बनाने का शौक रखती हूँ ,हमारे यहाँ नास्ते में ज्यादातर एग की रेसिपी ही बनती है । इसलिए मैं कोशिश करती हूँ की कुछ अलग और टेस्टी बनाऊँ । इस बुधवार को मैंने एग रोल बनाये जो की काफी अच्छे बने थे । मैं यहाँ एग रोल की रेसिपी शेयर कर रही हूँ ,और मुझे उम्मीद है की आप सभी को अच्छी लगेगी । और ट्राई भी करना चाहेंगे ।

सामिग्री----ingredients -----

चपाती के लिए ---for chapati -----

  1. मैदा २ कप .
  2. नमक १/४  छोटा चम्मच .
  3. दूध  ठंडा आवश्यकतानुसार .
  1. refined flour  2 cup
  2. salt 1/4 tsp
  3. milk as required 

सामिग्री---

रोल के भरवान  लिए ---

  1. अंडे ६ नग .
  2. नमक स्वादानुसार .
  3. काली  मिर्च १ छोटा चम्मच .
  4.  बारीक कटी हरी मिर्च १ बड़ा चम्मच .
  5. बारीक कटी हरी धनिया १ बड़ा चम्मच .
  6. गाजर कसी हुई २ बड़े चम्मच .
  7. बारीक कटी हुई प्याज़ २ बड़े चम्मच .
  8. नीबू का रस १ बड़ा चम्मच .
  9. दूध १ छोटा चम्मच .
  10. घी या वेजिटेबल आयल सेंकने के लिए 

 ingredients for stuffing -------- 

  1. egg 6 no
  2. salt to taste
  3. black pepper powder 1 tsp
  4. finely chopped green chili 1 tbsp
  5. finely chopped coriander 1 tbsp
  6. grated carrot 2 tbsp
  7. finely chopped onion 2 tbsp
  8. lemon juice 1 tbsp
  9. milk 1 tsp
  10. oil 

विधि --चपाती की --method-----

  1. मैदे में  नमक और दूध डालकर गाढा घोल तैयार करें .
  2. make a batter with salt,flour and milk 
  3. नॉन-स्टिक पैन गरम करें और घोल को फैलाते हुए चपाती या चीला घी लगाकर सेंक कर तैयार करें । इसी तरह एक -एक कर के सब तैयार करके रखें । 
  4. Drop batter by spoon onto lightly greased griddle until 1 side bubbles. Flip pancakes and bake until golden brown.

 रोल की भरवान ---method

  1. अंडे को तोड़ कर एक बड़े बर्तन में डालकर अच्छी तरह से फेंटें । 
  2. beat the egg in a large bowl.
  3. अब इसमें दूध डालकर फेंट लें । 
  4. now add milk and again whip well.
  5. अब अंडे में घी को छोड़कर सारी सामिग्री को डालकर अच्छी तरह से मिलाएं । 
  6. now mix all spices and ingredients instead of oil
  7. एक चपाती को तवे पर रखें और जब गरम हो जाये तब इस पर अंडे का मिश्रण आवश्यकतानुसार फैलाएं . बिना घी डाले पहले एक तरफ से और फिर दूसरी तरफ से सेंक लें .
  8. spread the mixture on chapati and bake it one side then flip the chapati the again spread 1 tbsp mixture and roast golden .
  9. अब इसी तरह से सारे रोल तैयार करें और अलग रखें .
  10. अब इन रोल्स को लपेटते हुए शेप दें .
  11. now roll them .
  12. पैन में घी डालकर एक -एक रोल को गुलाबी सेंकें .
  13. heat the oil in a another pan and fry the roll till crisp and golden .
  14. गर्मागर्म मनपसंद चटनी के साथ सर्व करें । 
  15. serve hot with green chutney or tomato sauce.

नोट--आप अपनी मनपसंद सब्जी डाल सकते हैं ,या फिर बची हुई सब्जी भी इस्तेमाल कर सकते हैं ।आप बची हुई रोटी या पराठे से भी बना सकते हैं । 

stuufed /bharwan kundru / भरवाँ कुंदरू



Ingredients:-


  1. Coccinia grandis 1/2 kg
  2. Grated onion 1/1/2 tbsp
  3. Ginger/garlic paste 1 tsp
  4. salt to taste
  5. Turmeric powder 1 tsp
  6. Coriander powder 2 tsp
  7. Red chili powder 1/1/2 tsp or to taste
  8. Fennel powder 1 tbsp
  9. Dry mango powder 1 tbsp
  10. Oil 2 tbsp

Method:-

  1. Wash and slit kundru in between after cutting both the ends, taking care not to split into two pieces.
  2. Now mix all ingredients instead of oil, mix well.
  3. Add  1 tbsp oil in the mixture, mix it well and fill the kundru with this mixture carefully.
  4. Heat remaining oil in a oven proof dish for 1 minute on high.
  5. Place the stuffed kundru  in plate,  cover and cook for 5 to 8 minute on high.
  6. Now open the lid and again cook for 2 minute on high.

सामिग्री:-

  1. कुंदरू १/२ किलो .
  2. कद्दूकस की हुई प्याज़ १/१/२ बड़ा चम्मच .
  3. अदरक ,लहसुन की पेस्ट १ छोटा चम्मच .
  4. नमक स्वादानुसार .
  5. हल्दी पाउडर १ छोटा चम्मच .
  6. धनिया पाउडर २ छोटे चम्मच .
  7. लाल मिर्च पाउडर १/१/२ छोटे चम्मच .
  8. सौंफ पाउडर १ बड़ा चम्मच .
  9. अमचूर पाउडर १ बड़ा चम्मच .
  10. तेल २ बड़े चम्मच

विधि:-

  1. कुंदरू धो लें और बीच से चीरा लगायें .। 
  2. अब प्याज में  तेल को छोड़कर सारी सामिग्री को अच्छी तरह से मिला लें 
  3. अब मसाले में १ बड़ा चम्मच तेल मिला लें और, कुंदरू में मसाला अच्छी तरह से भरें ।
  4. अब एक ओवन प्रूफ डिश  में तेल डालें और हाई पर १ मिनट के लिए तेल को गरम करें 
  5.  अब इसमें कुंदरू रखें और ढक कर ५ से ८  मिनट के लिए हाई  हीट पर पकाएं ।
  6. अब खोल कर हाई हीट पर २ मिनट के लिए पकाएं .
  7. गरमागरम पराठों के साथ या दाल -चावल के साथ सर्व करें .



नोट---इसे अगर गैस पर पकाना हो तो पैन  में तेल डालकर गरम करें और धीमी आंच पर गलने तक पक लें । अमचूर की जगह  नीबू का रस भी डाल  सकते हैं ।

Saturday, July 20, 2013

singhare ki poori

व्रत में खाएं चाहें वैसे ही सिंघाड़े के आटे की पूड़ी  बहुत मीठी और स्वादिष्ट लगती है । हमारे घर में कुटू का आटा व्रत में नहीं खाया जाता है ,क्योंकि कुटू का आटे से खुश्की हो जाती है अतः हम सभी सिंघाड़े के आटे की पूड़ी  ,रोल या फिर हलवा खाना पसंद करते हैं । मैं सिंघाड़े के आटे की पूड़ी  की रेसिपी शेयर कर रही हूँ । आशा करती हूँ पसंद आएगी ।

सामिग्री:- पूड़ी  के लिए :-

  • सिंघाड़े का आटा  २ कप .
  • उबले हुए आलू ३  बड़े .
  • सेंधा नमक १ छोटा चम्मच .
  • घी १/२ छोटा चम्मच .
  • वेजिटेबल आयल तलने के लिए .       
ingredients---- for poori 
water chestnut flour 2 cup
  • boil potato 3 large 
  • sendha/laouhri salt 1 tsp
  • ghee 1/2 tsp
  • vegetable oil for frying

सामिग्री ----सब्जी के लिए ---

  • लौकी  १/२ किलो .
  • सेंधा नमक 
  • हरे मिर्च बारीक कटी हुई २ नग .
  • काली मिर्च पाउडर १ छोटा चम्मच .
  • जीरा १ छोटा चम्मच .
  • घी १ बड़ा चम्मच .
  • बारीक कटा टमाटर १ नग .
  • हरा धनिया बारीक कटा हुआ १ बड़ा चम्मच .
ingredients-----for veggi ----
  • bottle guard 1/2 kg
  • salt(vrat wala/sendha) to taste
  • chopped green chili 2 no
  • black pepper powder 1 tsp
  • cumin 1 tsp
  • ghee 1 tbsp
  • finely chopped tomato 1 no
  • chopped coriander for garnishing

विधि पूड़ी  की ----

  • आलू  को कद्दूकस कर लें .
  • अब आटे में नमक ,घी और आलू मिलाकर मुलायम होने तक गूंध लें .
  • छोटे -छोटे पेड़े बनाकर पूड़ी  बेलें .
  • तेल गरम करें और धीमी आंच पर गुलाबी होने तक सेंक लें । 
how to make poori-----

  • grate the potato when it warm.
  • mix the flour with salt,potato and 1/2 tsp ghee,knead soft.
  • divide into small equal portion ,make poories with rolling pin .
  • heat the oil in wok fry the poories till golden and crisp.

विधि सब्जी की ----

  1. लौकी को छीलकर पानी से धो कर टुकड़ों में काट लें .
  2. अब एक पैन में घी गर्म करें और जीरा चटकाएं .अब हरी मिर्च ,टमाटर ,नमक काली मिर्च डालें १ बड़ा चम्मच पानी डालकर मसाला पका लें .
  3. लौकी डालें और १ कप पानी के साथ गलने तक पका लें .
  4. धनिया पत्ती डालकर सजाएं
  5. .गरमागरम पूरी के साथ सर्व करें । 
how to make vegetable -----
  • peel,wash and cut into dices the bottle guard .
  • heat the ghee in cooker crackle the cumin, saute the chili,tomato add salt,black pepper and 1 tbsp water,cook the massala till oil separates .
  • add bottle guard and 1 cup water,cook till done.
  • garnish with coriander .
  • serve with poories .

नोट---आटे में अरवी को उबाल कर और मैश करके भी मिला सकते हैं । लौकी की ही तरह आलू की सब्जी भी सर्व कर सकते हैं ।

 note--- we can also add arvi in poori dough,and also serve the potato curry with this poories.

Friday, July 19, 2013

Ghiya kheer/ Bottle guard pudding/ लौकी की खीर




Ghia or Bottle gourd pudding can be eaten in fast, it is also delicious as well as nutritious, I often cook this easy to prepare recipe during fasting days. Most people simply do not like the gourd but is considered beneficial to health.

Here I have prepared the bottle guard  pudding which is a delicious addition to fast as well as the same can be served to guests.


घिया या लौकी की खीर व्रत में खायी  जा सकती है, ये स्वादिष्ट होने के साथ ही पौष्टिक भी रहती है, आसानी से बन जाने वाली इस रेसिपी को मैं अक्सर ही व्रत में बनाती हूँ. यूँ तो लौकी अधिकतर लोगों को पसंद नहीं आती है पर सेहत के हिसाब से लौकी बहुत फायदेमंद मानी गयी है.  यहाँ मैंने लौकी की खीर बनायीं है जो की स्वादिष्ट तो है ही साथ ही व्रत के अलावा आप मेहमानों के सामने  सकते हैं। 
Preparation time :-10 minute
Cooking time:- 25 minutes
Serves :-4


                                         
Ingredients:-
  1. Bottle guard 1/2 kg
  2. Sugar 2 tbsp or as per taste 
  3. Milk boiled 1 litter 
  4. Chopped almonds 1 tbsp
  5. Chopped cashew nut 1 tbs
  6. Pistachio chopped  1 tbsp
  7. Green cardamom powder 1 tsp
  8. Mava 1 tbsp grated 
  9. Desi ghee 2 tsp
Method----


  • Wash and grate  the  bottle guard.
  • Cook the milk in a heavy bottom pan with cardamom powder and chopped dry fruits.
  • Heat the ghee in another pan and fry bottle guard till golden.
  • Then add one cup water, cover and cook the bottle guard till it done.
  • Now mix the bottle guard with milk, cook it for 10 minutes on medium hot heat, turn off the flame.
  • Cool and serve.

    सामिग्री:-

    1. घिया १किलो 
    2. चीनी २ बड़े चम्मच .
    3. दूध १  लीटर उबाला हुआ .
    4. कटे हुए बादाम १ बड़ा चम्मच .
    5. कटे हुए काजू १ बड़ा चम्मच .
    6. इलाइची पाउडर १ छोटा चम्मच .
    7. मावा १ बा चम्मच .
    8. देशी घी २ छोटे चम्मच .

    विधि :-

    1. घिया को छीलकर धो लें और कद्दुकस कर लें .
    2. दूध को एक भारी तले के बर्तन में इलाइची पाउडर और कटी हुई मेवा के साथ चढ़ाएं .
    3. अब  एक कढ़ाही में घी डालें और घिया को हल्का गुलाबी होने तक भूनें .
    4. इसी कढ़ाही में १ कप पानी के साथ घिया  को गलने तक चढ़ा रहने दें .
    5. घिया के गलने के बाद इसमें मावा डालकर इसे उबलते हुए दूध में डालकर ५  मिनट या खीर के गाढ़ा होने तक धीमी आंच पर पका कर खीर को फ्रिज में ठंडा करें और सर्व करें .।

    नोट---खीर को भारी तले के बर्तन में ही चढ़ाएं नहीं तो नीचे जलने  का डर रहेगा इससे स्वाद बिगड़ जायेगा .आवश्यकतानुसार चीनी की मात्र कम कर  सकते हैं ।

    Wednesday, July 17, 2013

    penne pasta with tamoto and besil

    सामिग्री----

    1. पेन्ने पास्ता १/१/२ बड़ी कटोरी .
    2. टमाटर २ बड़े .
    3. मीठी तुलसी पाउडर (बेसिल ) की पत्ती १ बड़ा चम्मच 
    4. नमक २ छोटे चम्मच .
    5. लहसुन बारीक कटा हुआ १ छोटा चम्मच .
    6. प्याज़ बारीक कटी हुई १ बड़ा चम्मच 
    7. काली मिर्च पाउडर १ छोटा चम्मच या स्वादानुसार .
    8. ऑलिव आयल (आधुनिक आयल )२ बड़े चम्मच .
    9. ओरेगेनो १ छोटा चम्मच .
    10. चिली फ्लेक्स १ छोटा चम्मच .
    11. सलाद की ड्रेसिंग पाउडर १ छोटा चम्मच .
    12. १ छोटा चम्मच बेजीटेबल आयल 
    13. सजाने के लिए बेसिल पत्ती

    विधि------

    1. एक बड़े बर्तन में पानी चढ़ाएं और उबाल आने पर इसमें १ छोटा चम्मच नमक और १ छोटा चम्मच तेल डालकर  पास्ता गलने तक उबालें ( पास्ता अधिक गलाएँ नहीं ) 
    2. अब पास्ता को पानी से निकाल कर ठन्डे पानी में धो लें और इसके ऊपर १ बड़ा  चम्मच  ऑलिव आयल डालकर  अलग रखें ।
    3. टमाटर को उबाल लें और छिलका उतार कर मिक्सी  में प्यूरी बना लें ।
    4. अब एक पैन में बचा हुआ ऑलिव  आयल गरम करें ,लहसुन को हल्का भून कर, प्याज़ भी हल्का गुलाबी होने तक भून लें । 
    5. अब टमाटर की प्यूरी और १ छोटा चम्मच  नमक डालकर २ से ४ मिनट के चलायें और पास्ता डालें। 
    6. लगातार चलाते हुए अब इसमें काली मिर्च ,बेसिल पत्ती ,ओरेगेनो , चिली फ्लेक्स और सलाद  ड्रेसिंग का पाउडर डालकर अच्छी तरह से मिला लें । 
    7. गर्मागर्म परोसें । 

    Method----

    1. Boil the water in a deep pan with salt and 1 tsp oil, add pasta and boil.
    2. Drain the water and wash the pasta with cold water, spread 1 tbsp olive oil and keep aside.
    3. Now boil the tomatoes, peel them and make the puree.
    4. Heat the oil in a non stick pan saute the garlic and onion.
    5. Add tomato puree, 1 tsp salt stir and add pasta  mix well and cook for 2-3 minutes with stirring.
    6. Now add black pepper powder, basil leaves powder, oregano,  chili flex and salad  dressing powder, mix well, Switch off the flame.
    7. Garnish with basil leaves, serve hot.
     

    नोट --- पास्ता बहुत गलाएँ नहीं .पास्ता चिपके नहीं इसके लिए गलने के बाद ठन्डे पानी से अवश्य  धो लें .अगर सलाद की ड्रेसिंग  पाउडर न हो तो न डालें ।

    Monday, July 15, 2013

    aam ka achar

    अचार का नाम आते ही मुंह  मैं पानी आ ही जाता है और  आम का अचार तो पराठों के साथ ,दाल चावल के साथ ,पूरी के साथ ,भरवाँ  पराठों के साथ बहुत अच्छा लगता है । जुलाई ,अगस्त के माह में आम का अचार बनाया जाता है और फिर पूरे साल खाया जाता है । मुझे याद है जब हम छोटे थे तब जैसे घर में अचार बनता था चोरी-चोरी बहुत सा अचार निकाल कर खा लेते थे, कच्चा ही । मगर अब उतना खाने में अच्छा नहीं लगता है मगर हाँ  बनाने में बहुत अच्छा लगता है ।

    सामिग्री ---

    • रामकेला (अचार के लिए विशिष्ट ) आम ५किलो .
    • हल्दी पाउडर ३ बड़े चम्मच .
    • लाल मिर्च पाउडर स्वादनुसार या २ बड़े चम्मच .
    • कश्मीरी मिर्च १ छोटा चम्मच .
    • काली मिर्च पाउडर १ छोटा चम्मच .
    • चीनी १/१/२ बड़े चम्मच .
    • मोटी सौंफ २ ५ ० ग्राम .
    • हींग पाउडर १ छोटा चम्मच .
    • नमक २/१/२ बड़े चम्मच .
    • सिरका १ बड़ा चम्मच .
    • मेथी दाना १/१/२ बड़ा चम्मच .
    • कलोंजी १ बड़ा चम्मच .
    • सरसों का तेल १ किलो .

    ingredients--------

    • raw mango 5 kg 
    • turmeric powder 3 tbsp
    • red chili powder 2 tbsp or  to taste
    • kashmiri chili powder 1 tsp
    • clack paper powder 1 tsp
    • sugar q/q/w tbsp
    • fennel 250 gram
    • fenugreek seeds 1/1/2 tbsp
    • heng 1 tsp
    • salt 1/1/2 tbsp 
    • onion seeds 1 tbsp
    • mustard oil 1 kg 

    method-----

    • आम को धो कर छोटे टुकड़ों में काट कर धूप में २ घंटे के लिए सुखा लें .
    • कढ़ाही में सूखा ही सौंफ और मेथी दाना भून लें .
    • मिक्सी में पीस लें .साथ में चीनी भी पीस लें .
    • जिस जार में अचार रखना हो उसे साफ़ करें ,अब एक छोटी कटोरी में १ छोटा चम्मच तेल गरम करें और हींग डालकर इसे गैस से उतार कर इसके ऊपर जार को उलटा करके रखें ताकि सारी खुशबू जार में चली जाये ,इससे जार में हींग की खुशबू तो आएगी ही साथ ही अचार खराब होने का डर नहीं रहेगा । 
    • अब एक कढ़ाही में १/२ किलो अच्छी तरह से गरम कर लें और ठंडा होने के बाद ही इसमें सारी सामिग्री को अच्छे से मिला लें
    • अब एक बड़े बर्तन में तेल के अतिरिक्त सारी सामिग्री  और आम को एक साथ अच्छी तरह से मिला लें
    • अब जार में अचार को  रखें और ऊपर से बाकि का तेल डाल दें .
    • जार का मुंह कपड़े से ढक कर १ से २ हफ्ते के लिए धूप में रखें और उसके बाद किसी ठन्डे स्थान पर । रखें ।
    • बारिश के बाद अचार को धूप दिखाना न  भूलें ।

    METHOD--------

    • wash and cut into small pieces mango ,keep in sun light for 2 hour 
    • dry roast the fennel and fenugreek seeds.
    • coarsely grind with sugar
    • now heat the 1/2 kg oil in pan then turn off the heat,now add all the spices in oil mix in mango pieces .
    •  add remaining oil and keep in air tight container ,keep in sun light for a week 

    नोट---कश्मीरी मिर्च से अचार में रंग आ जाता है और सिरके से अचार के खराब होने का डर नहीं रहता । अचार सुरक्षित रहे इसके लिए हमेशा साफ़ हांथों से ही अचार निकालें और साथ ही जार का मुंह जार का  ढक्कन से अच्छी तरह बंद कर ही रखें । हल्दी भी अचार को सुरक्षित रखने में सहायक होती है ।

    Saturday, July 13, 2013

    tulsi ke fayde

    तुलसी के पौधे का ज्योतिषीय महत्त्व होने के साथ ही इसका प्रयोग दवाओं के रूप में आयुर्वेद में भी किया जाता है ।
    तुलसी का पेड़ अधिकतर हर हिन्दू परिवार में जरूर लगाया जाता है , तुलसी दो रंग में पाई जाती है रामा तुलसी और श्यामा तुलसी ,रामा हरी और श्यामा काली होती है ,मगर दोनों के ही फायदे अनेक हैं ।
    • तुलसी की पत्तियों को पीस का पीने से पाचन तंत्र मजबूत होता है । 
    • दांतों में अगर कीड़ा लग रहा हो तो ,तुलसी ले रस में लौंग का तेल या लौंग का चूर्ण एक  बराबर मात्रा में लें और इसमें १/४ टुकड़ा खाने वाला कपूर मिलाकर लगाने से आराम मिलता है । 
    • सर्दी-जुकाम या बुखार होने पर २ १ तुलसी दल ,७ काली मिर्च को उबाल कर आधा करें इसमें ३ बताशे डालकर पिलाएं । 
    • तुलसी की मंजरी को साफ़ करके पीसें और दाद-खाद और खुजली पर लगाने से आराम मिलता है। 
    • तुलसी को प्रतिदिन प्रातः २ पत्ती खाने से कैंसर का खतरा कम हो जाता है । 
    • मंजरी को साफ़ करें और सामान मात्रा में गुड़ मिलाकर बच्चों को खिलने से बुद्धि बढ़ती है ।

    Saturday, July 6, 2013

    jamun ke fayde

    चिकने और गाढ़े काले रंग का फल गर्मी में जगह-जगह दिखाई देता है ,अधिकतर जामुन के पेड़ सड़क के किनारे लगे दिख जाते हैं । हमेशा हरा रहने वाले इस पेड़ के फल जितने लाभदायक  हैं उतने ही इसके पत्ते भी उतने ही लाभदायी हैं ।
    १. गले में खराश , गले का बैठना ,मुंह में छाले हों तो जामुन की पत्ती को गूलर के पत्ते के साथ उबाल कर छान  लें और फिर इस पानी से गरारे करें ।
    २. जामुन लीवर और मसूढ़ों को मजबूती देता है ,अगर मसूढ़ों में पानी लगता हो तो इसके पत्ते व छाल को जला कर रख बनाएं और फिर मसूढ़ों पर मलें राहत  मिलेगी ।
    ३ .पेट की अपच और गैस से राहत  पाने के लिए प्रतिदिन ४ से ६ जामुन का सेवन करें या जामुन का सिरका खाने के साथ खाएं।
    ४. जामुन की गुठलियों को साफ़ करें और धूप में सुखा कर चूर्ण बनाएं दिन में २ बार पानी के साथ लेने से शुगर में बेहद लाभ होता है ।
    ५. किडनी की पथरी में जामुन का रस पीने से लाभ मिलता हैं ।
    ६. जहरीला कीड़ा या जानवर काट ले तो इसके पत्तों को पानी के साथ पीस कर लेप बनाएं और लगायें ।
    ७. अफीम जैसे नशे को उतारने के लिए इसके १ ० पत्तों को पीस कर पिलाएं ।
    ८ .मूत्र रोगों के लिए भी जामुन बहुत लाभदायी है ।


    Friday, July 5, 2013

    dum aloo/आलू दम

    आलू को सब्जियों का राजा कहा जाता है ,और अधिकतर सभी को आलू पसंद आता है साथ ही हर घर में किसी न किसी रूप में बनाया जाता है । यहाँ मैं दम आलू की रेसिपी आप सबके साथ शेयर कर रही हूँ ,आलू एक ऐसी सब्जी है जो सबके साथ इस्तेमाल की जा सकती है , आप किसी भी हरी सब्जी,मटन या फिर चिकन के साथ भी बना सकते हैं ,पहले जब इतनी सुविधाएं नहीं होती थीं तब बड़े बुजुर्ग कहते थे घर में आलू नमक और अत तो होना ही चाहिए।  तो चलिए बनाते हैं मेरी इस्टाइल के आलू दम।
    आलू दम कई तरह से बनाये जाते हैं मैं समझती हूँ की रेसिपी ऐसी होनी चाहिए की आसानी से और घर  में ही मिलने वाली सामिग्री से बनायीं जा सके।

    सामिग्री----

    1. मध्यम  और एक सामान आकार के आलू  1/2 किलो .
    2. प्याज़ की पेस्ट १/१/२ बड़ा चम्मच .
    3. अदरक ,लहसुन की पेस्ट १ छोटा चम्मच .
    4. हल्दी पाउडर १ छोटा चम्मच .
    5. धनिया पाउडर २ छोटे चम्मच .
    6. लाल मिर्च पाउडर २ छोटे चम्मच .
    7. सौंफ  का पाउडर १ छोटा चम्मच .
    8. नमक स्वादानुसार .
    9. देशी घी १ बड़ा चम्मच .
    10. सरसों का तेल या वेजिटेबल आयल १/१/२ बड़ा चम्मच .
    11. जीरा १ छोटा चम्मच .
    12. मेथी दाना १/२ छोटा चम्मच .
    13. हरा धनिया बारीक कटा हुआ १ बड़ा चम्मच .
    14. गरम मसाला पाउडर १/२ छोटा चम्मच .
    15. टमाटर की पुयरी 2 बड़ा चम्मच .
    16. दही १ बड़ा चम्मच .
    ingredients---------
    1. medium and same size potato 1/2 kg
    2. onion paste 1/1/2 tbsp
    3. ginger,garlic paste 1tsp
    4. turmeric powder 1tsp
    5. coriander powder 2 tsp
    6. red chili powder 2 tsp
    7. fennel powder 1 tsp
    8. salt to taste
    9. deshi ghee 1 tbsp
    10. mustard oil 1/1/2 tbsp
    11. cumin 1 tsp
    12. fenugreek seeds 1/2 tsp
    13. chopped coriander 1 tbsp
    14. garam massala powder 1/2 tsp
    15. tomato puree 2 tbsp
    16. curd 1 tbsp
       method----------
    1. आलू को छीलकर पानी से धो लें और कांटे की सहायता से बीच में गोद लें .और पानी में रख दें ताकि आलू काले न पड़ें । 
    2. peel,wash and prick them with folk and put in water.
    3. अब कढ़ाही में घी गरम करें और मेथी दाना डालकर आलू को गुलाबी होने तक भून लें । 
    4. heat the ghee in wok or a pan pop the fenugreek add potato shallow fry them till golden.
    5. प्रेशर कुकर में तेल डालें ,तेल में धुआं उठने पर जीरा चटकाएं । 
    6. heat the oil in pressure cooker saute the cumin.
    7. अदरक ,लहसुन की पेस्ट को गुलाबी होने के बाद प्याज़ की पेस्ट डालें और गुलाबी होने तक भूनें । 
    8. fry ginger,garlic and onion paste .
    9. अब सूखे मसाले डालें और २ मिनट के लिए भून कर टमाटर की पुयरी और दही डालें ,लगातार चलतें हुए मसाले को तेल छोड़ने तक पकाएं । 
    10. add dry spices cook 2 minutes,add tomato puree and whipped curd,stir continuously  cook the massala/spices till oil separates .
    11.  नमक डालें और आलू डालकर २-४ मिनट चलाकर १/१/२ गिलास पानी डालकर प्रेशर लगा दें .। 
    12. add fried potato,salt stir 2-3 minute add 1/1/2 water.cover .
    13. सीटी आने पर गैस को धीमी करें और ५ से ८ मिनट के लिए पकाएं और गैस बंद करें .
    14. after a pressure turn the heat sim cook for 5 to 8 minute and switch off the gas.
    15. हरी धनिया से सजा कर गरमागरम पराठे ,रोटी या चावलों के साथ सर्व करें .
    16. garnish with coriander and garam masala serve hot with chapati or steamed rice.

    नोट----- दम आलू के लिए पहाड़ी आलू लें जिनका  स्वाद अच्छा होता है .आप इसमें क्रीम भी डाल सकते हैं । तेल ,मिर्च अपनी स्वाद के अनुसार घटा -बढ़ा सकते हैं ।

    aAdu (peach) ke fayde

    मुलायम छिलके वाला हल्का मीठा आड़ू पीले और लाल रंग का फल है । इसमें मौजूद एंजाइम ,प्राक्रतिक विटामिन और उच्च स्तर का फाइबर हमारे शरीर के लिए बहुत फायदेमंद है ।
    • आड़ू के छिलके में विटामिन और मिनिरल की प्रचुरता होती है अतः इसे हमेशा अच्छी तरह से धोकर छिलके सहित खाना चाहिए ,ये कोलोस्ट्रोल कैरोटीयायड तत्वों की मौजूदगी कैंसर से बचाव करते हैं । 
    • इसमें पाए जाने वाले कैल्सियम ,फास्फोरस हड्डियों को मजबूत बनाने के साथ ही दांतों को भी मजबूत बनाते हैं । 
    • कब्ज,बवासीर ,गैस और अल्सर जैसे पेट के रोगों के लिए आड़ू बेहद फायदेमंद है ,अतः मौसम में इसका प्रयोग अवश्य करना चाहिए । 
    • पेट के कीड़े साफ़ करने में इसका रस सहायक होता है ,प्रतिदिन सुबह 1  ग्लास आड़ू का  और १ टमाटर रस कालीमिर्च डालकर पीने से पेट के कीड़े मर जाते हैं । 
    • आडू का गूदा निकाल कर शहद के साथ मिलकर चेहरे पर लगायें और १/२ घंटे बाद ठन्डे पानी से धो लें ,चेहरे की त्वचा स्निग्ध बनती है ।

    Thursday, July 4, 2013

    moong dal ki khichdi/ मूंग दाल की खिचड़ी




    Khichdi is a very popular one pot meal. khichdi is a simple and comforting food prepared with lentils and rice, vegetable can also be added if desired. Every house hold has their own recipe for khichdi. It is highly nutritious  food for heath.

    Preparation time:- 15 minutes
    cooking time:- 25 minutes
    serves:- 4


    Ingredients:-

    • 2 Cup rice
    • 2 Cup green gram
    • 1/2 Tsp turmeric powder
    • Salt as per taste
    • 4 Cloves
    • 4 Whole red chili
    • 1 Large onion sliced
    • 2 Tbsp cumin seeds
    • 1 Tsp heeng
    • 2 Tbsp ghee/clarified butter

    For serving:-

    • Ghee
    • Raita

    Method:-

    • Clean, wash and rinse dal and rice thoroughly, soak it in enough water for 15 minutes.
    • Now add rice and dal  to a pressure cooker or a heavy bottomed pan and add 4 glass water and allow to boil.
    • After a boil remove the dirt that comes on the top, add salt, turmeric powder,cloves and heeng.
    • Reduce the heat on sim and cook the khichdi till the rice and dal becomes mushy in texture, switch off the gas.
    • Heat ghee in a pan add cumin seeds as they crackle add sliced onion and fry until golden.
    • Add broken red chili and turn the heat quickly.
    • Before serving pour the tadka on khichdi.
    • Garnish with some tadka, serve hot with raita, salad, pickle or chutney.


      सामिग्री:-

      • २ कप चावल 
      • २ कप छिलके वाली मूंग दाल 
      • १/२ छोटा चम्मच हल्दी पाउडर 
      • ४ लौंग
      • नमक स्वादानुसार
      • १ बड़ी प्याज़ स्लाइस की हुई 
      • ४ साबुत लाल मिर्च 
      • १ बड़ा चम्मच हींग 
      • २ बड़े चम्मच जीरा 
      • २ बड़े चम्मच देशी घी 

      परोसने के लिए :-

      • देशी घी 
      • दही या रायता 

      विधि:-

      1. दाल और चावल को साफ़ करके धो लें और पानी में भिगो कर १५ मिनट के लिए रख दें.
      2. प्रेशर कुकर या भगोने में ४ ग्लास पानी के साथ चढ़ा दें एक उबाल आने के बाद ऊपर आयी गन्दगी को निकाल दें.
      3. हल्दी पाउडर, लौंग, हींग  और नमक डालकर धीमी आंच पर २० मिनट या फिर पूरी तरह से गल जाने तक पका लें.
      4. गैस बंद करें .
      5. एक पैन में घी गरम कर जीरा डालें रंग बदलने के बाद प्याज़ को सुनहरा भून कर लाल मिर्च को तोड़ कर डालें और तुरंत गैस बंद कर दें।
      6. गर्मागर्म खिचड़ी पर तड़का और देशी घी डालकर मनपसंद रायता, सलाद, अचार के साथ परोसें।

      नोट:- 

      • यदि आप खिचड़ी मरीज के लिए बना रहे हैं तो घी की मात्रा अपने अनुसार डालें। 
      • दही की जगह मठ्ठा दें, मठ्ठा मरीज के लिए हानिकारक नहीं होता। 
      • यदि खिचड़ी को अधिक पतला बनाना हो तो उबाल आने के बाद और पानी मिला लें। 
      • यदि कुकर में खिचड़ी बना रहे हैं तो ढक्क्न लगाकर गैस को धीमा कर दें और १५ मिनट बाद बंद कर दें।

      Tuesday, July 2, 2013

      aloo paratha


      पराठे अधिकतर घरों में नास्ते में खाए जाते हैं । भरवाँ  पराठों में सबसे ज्यादा पसंद किया जाने वाला है आलू का पराठा ,जो सभी लोग अपने-अपने तरीके से बनाते हैं ।भरवाँ पराठे दही ,आचार और मक्खन के साथ बहुत भाते हैं ।

      सामिग्री------

      • गेहूं का आटा २ कप .
      • उबले हुए आलू ४ बड़े .
      • हरी मिर्च बारीक कटी हुई २ नग .
      • बारीक कटी हरी धनिया १ बड़ा चम्मच .
      • नमक स्वादानुसार .
      • लाल मिर्च पाउडर स्वादानुसार .
      • अमचूर पाउडर १ टी स्पून .
      • घी या तेल सेंकने के लिए .
      • मक्खन और दही .आवश्यकतानुसार .

      ingredients-------

      • wheat flour 2 cup
      • boiled and mashed potato 4 no 
      • chopped green chili 2 no
      • chopped coriander 1 tbsp
      • salt to taste
      • red chili powder to taste
      • dry mango powder 1 tsp
      • oil for roasting 
      • butter and curd for serving

      विधि-------

      • आटे में १/२ टी स्पून नमक डालकर मुलायम गूंध कर कपडे से ढक कर रखें .
      • अब आलू को कद्दूकस करें और इसमें नमक,मिर्च ,हरी मिर्च ,हरी धनिया और अमचूर पाउडर मिलाकर मिश्रण तैयार करें .
      • अब आटे से पेड़े बनाएं और आलू का मिश्रण भरकर पराठे बेलें .
      • तवा  गरम करें और पराठों को गुलाबी सेंकें .
      • दही ,मक्खन और मनचाहे अचार के साथ सर्व करें .

      method---------

      • knee the soft the dough with 1/2 tsp salt and keep aside cover with muslin cloth .
      • mix the salt,chili powder,chili,coriander and dry mango powder in mashed potato.
      • now divide the dough into small balls .
      • stuff the mixture and make the paratha .
      • heat the pan roast the paratha .
      • serve with curd ,pickle and butter.

      नोट----आलू के मिश्रण में बारीक कटी प्याज़ ,और नीबू का रस भी मिला सकते हैं . आटा मुलायम होने से मिश्रण कभी भी बाहर  नहीं आएगा इसलिए पराठों के लिए आटा हमेशा मुलायम ही गूंधना चाहिए ।


      note-------yon can also add finely chopped onion and lemon juice in stuffing mixture .always knee soft dough for stuffed paratha .