Pageviews past week

Tuesday, September 26, 2017

Amranth/ Ramdane/ Rajgira Ki Kheer/ रामदाने की खीर






                      Rajgira, ramdana or amaranth can be consumed during fast, we usually get ramdana laddu or chikki in market which we can then make at home, through this rajgira flour we can make puri or prantha which we can have with potatoes during fast. Iron and fiber are abundant in this, it is also beneficial for the body.


                       Ramdane kheer is very delicious and you can serve to your guests as well.Creamy, rich flavored Ramdane's kheer Ramdan is cooked with sugar and nuts in milk, you can use cardamom powder and saffron for flavors.




                    राजगीरा, रामदाना या अमरंथ व्रत में खाया जा सकता है , अक्सर बाजार में रामदाने के लड्डू या फिर चिक्की मिलती है जिसे घर पर बनाना बहुत ही आसान है, इसके आटे से पूरी या फिर पराठा भी बनाया जाता है जिसे आप व्रत में आलू की सब्जी के साथ खा सकते है।  इसमें आयरन और फाइबर प्रचुर मात्रा में पायी जाती है इस हिसाब से यह शरीर के लिए भी फायदेमंद होता है।

                   रामदाने की खीर बहुत ही स्वादिष्ट बनती है, इसे बनाने में बहुत अधिक सामिग्री की आवश्यकता नहीं होती है.  आप इसे मेहमानों के सामने भी सर्व कर सकते हैं।

                   क्रीमी, रिच फ्लेवर्ड रामदाने की खीर रामदाने को फुला कर दूध में चीनी और मेवा के साथ पकाई जाती है फ्लेवर के लिए आप इसमें इलाइची पाउडर और केसर का इस्तेमाल कर सकते हैं।




Preparation Time :- 20 minutes

Cooking Time :- 30 minutes

Serves :- 4 

Type :- Dessert 

Cuisine :- Indian 





 सामिग्री :-




  1. रामदाना१ कटोरी 
  2. दूध १ लिटिर 
  3. चीनी १ बड़ा चम्मच 
  4. कटे हुए बादाम २ बड़े चम्मच 
  5. कटे हुए काजू २ बड़े चम्मच 
  6. किशमिश २ बड़े चम्मच 
  7. केसर के धागे १२ नग 
  8. दूध २ बड़े चम्मच 
  9. इलाइची पाउडर १ छोटा चम्मच 
  10. सजाने के लिए गुलाब की पत्ती और कटे पिस्ते




 विधि :- 




  1. सबसे पहले रामदाने को फूलना पड़ेगा जिसके लिए एक कड़ाही को गरम करें और कम से कम २ से ३ बड़े चम्मच रामदाना डालें, जैसे ही आप रामदाना डालेंगे चटकना शुरू हो जायेगा, जैसे ही  इनका रंग बदल कर सफ़ेद हो इन्हें कढ़ाही से निकाल लें और बाकि का रामदाना भी इसी तरह से तैयार कर लें.
  2. केसर के २ बड़े चम्मच दूध में भिगो कर रखें।
  3. अब दूध को एक भारी  तले के बर्तन में चढ़ा दें, जैसे ही एक उबाल आये इसमें चटकाया हुआ रामदाना डालें और दूध में अच्छी तरह से मिला लें, इसे १० मिनट के लिए लगातार चलाते हुए पका लें। 
  4. अब इसमें कटी मेवा, इलाइची पाउडर, और भिगोया हुआ केसर डालकर ५ मिनट और पका लें। 
  5. गैस बाद कर दें, ठंडा करें। 
  6. ठंडी खीर गुलाब पत्ती और पिस्ते से सजा कर परोसें।











                                                             Recipe In English

Ingredients :- 




  1. Rajgira/ Amaranth 1 bowl
  2. Milk 1 litter
  3. Sugar 1 tbsp 
  4. Chopped Almonds 2 tbsp
  5. Chopped cashew nut 2 tbsp
  6. Raisins 2 tbsp
  7. Saffron 12 threads  
  8. Milk 2 tbsp
  9. Cardamom 1 tsp 
  10. Rose petal and pistachio for garnish
 




Method :- 




  1. First you need to pop the rajgira, Heat a pan add 2 to 3 tbsp ramdana at a time it will start popping up almost immediately, As they popped up removed from the pan and keep aside.
  2.  Soak the saffron threads in 2 tbsp milk.
  3. Repeat the process  for the rest of ramdana. 
  4. Now put the milk in a heavy bottom pan, Bring to a boil and reduce the heat then add pooped ramdana stir and mix, Reduce the heat and allow to simmer.
  5. Cook it for 10 minutes Stir occasionally,  Add chopped nuts, cardamom powder and soaked saffron simmer for 5 minutes.
  6. Turn off the gas.
  7. Cool and garnish with rose petal and pistachio serve chilled. 






नोट :- 


  1.  रामदाने को फूलने के बाद छान लें ताकि उसमें यदि कुछ दाने कड़े रह गए हों तो निकल जाएं।        
  2.  खीर बहुत गाढ़ी न करें न ही ज्यादा पतली।          
  3. आप अपनी इच्छानुसार चीनी कम और अधिक कर सकते हैं।         
  4. शुगर के मरीज इसमें शहद या फिर शुगर फ्री पाउडर का इस्तेमाल कर सकते हैं।

                                                        How To Pop



Saturday, September 16, 2017

Royal Atmos for Royal Atmosphere

At present, it is a harsh reality that the pollution in air is not only harmful to city birds but also to human beings who are vulnerable to all the diseases caused by polluted air.

Do not know when and how in the zeal to create a modern world, humans have destroyed the Mother Nature. The poison that dissolves in the air is also poisoning our breaths.

According to a report of WHO, it is believed that India has 13 of the top 20 cities where pollution level is higher than the safe levels and surprisingly air pollution inside our home is found to be 5 times more harmful.

 Sometimes I wonder that what we leaving behind for our future generations, is just pollution and various kinds of diseases.

One day while watching TV, I saw this advertisement where Asian Paints advertised their new range of wall paints, keeping our homes pollution free. It felt like someone had miraculously given me the solution to my concern of pollution free home for my loved ones and me.

The Royal Atmos of Asian Paints looks not only beautiful but also makes the atmosphere of our homes more pure than before. This makes the air more pure and fragile by deactivating activated carbon in the air. Royal Atmos is the first such paint in which does not contains chemicals and uses natural fragrance.

  • ·        Royal Atmos does an impeccable work to reduce formaldehyde found in homes.

  • ·        The only gorgeous looking paint on the walls that does not contains chemical and spreads   pleasant fragrance.

  • ·        It improves the quality of air inside our homes.

  • ·        Its finishing is smooth as silk.

  • ·        It comes with a green seal which means that this VOC safer and environmentally friendly.

  • ·        The Teflon coating also ensures that the stains on the walls can be easily removed and your wall will shine for years.

After seeing this advertisement, there is a warm satisfaction in my mind. Now our children will be able to breathe pure air, at least in the house and be safe from many diseases. I wish, Royal Atmos is not only used in our households but also in public places such as malls and offices thus ensuring pollution free environment.

To get more information, you can visit https://www.asianpaints.com/campaign/royale-atmos/index.html

This is one such product I wish is endorsed by us to our family and friends to help build a healthy and pollution free environment. 



An innovative advert for the innovative solution to our pollution problems!


Tuesday, August 29, 2017

Instant Coconut Laddoo/ Nariyal Ke Laddoo/ नारियल के लड्डू











⁠⁠⁠Coconut laddus is a quick to prepare with few ingredients of Hindustani recipes, which we can serve at any Hindu festival or on the arrival of the guest, if you can maintain it in a traditional way. It requires a syrup to be made, but there is no need for them to be made with condensed milk.

Though often colors are used in these sweets, but here I have used khas syrup to enhance color and flavor.

It is essential to finely grate coconut, one can also buy grated coconut which is easy to find in the market. If you wish to grate coconut at home, then use the thin side of a grater.





 नारियल के लड्डू एक बहुत ही जल्दी और बहुत ही कम सामिग्री में बन जाने वाली हिंदुस्तानी रेसिपी है, जिसे हम किसी भी हिन्दू फेस्टिवल में या फिर गेस्ट के आ जाने पर बहुत बना कर सर्व  कर सकते हैं, यदि आप पारम्परिक तरीके से इसे बना रहे हों तो इसके लिए चाशनी बनाने की आवश्यकता होती है मगर कंडेंस्ड मिल्क के साथ बनाने में चाशनी की जरूरत नहीं होती।
यूँ तो अक्सर इस तरह की मिठाइयों में रंगों का इस्तेमाल किया  जाता है लेकिन यहाँ मैंने इसमें रंग और स्वाद बढ़ाने के लिए खस के शरबत का इस्तेमाल किया है.
इसे बनाने के लिए कसे हुए नारियल की आवश्यकता होती है जो की बाजार में आसानी से मिल जाता है यदि आप घर पर ही इसका पाउडर बनाना चाहते हैं तो सूखे नारियल को कद्दूकस के बारीक तरफ से कस लें इस तरह आपका  कसा हुआ नारियल घर पर बन जायेगा



Preparation time :- 5  minutes

Cooking time :- 15 minutes

Serves :-  16  pieces






सामिग्री :- 


  1. कसा हुआ नारियल २/१/१ कप 
  2. कंडेंस्ड मिल्क १ कप 
  3. बादाम कटे हुए २  बड़े  चम्मच 
  4. कटी हुई किशमिश २ बड़े चम्मच 
  5. चिरोंजी १ बड़ा चम्मच 
  6. देशी घी २ बड़े चम्मच 
  7. इलाइची पाउडर १ छोटा चम्मच 
  8. खस शरबत  १ बड़े चम्मच 
  9. नारियल लपेटने के लिए

 

विधि :- 

  1. सबसे पहले नारियल को सूखा ही एक पैन में हल्का गुलाबी हो जाने तक भून लें और पैन से निकाल लें। 
  2. अब इसी पैन में कंडेंस्ड  लगातार चलाते हुए दो से तीन मिनट के लिए पका लें और इसमें भुना हुआ नारियल डालें अच्छी तरह से मिला लें। 
  3. अब इसमें घी, कटी मेवा, इलाइची पाउडर और खस शरबत डालें अच्छी तरह से मिला कर लगातार चलाते हुए पांच मिनट के लिए धीमी आंच पर पका कर गैस को बंद कर दें। 
  4. मिश्रण को ठंडा करें और जब मिश्रण हल्का गुनगुना रहे तभी इसके लड्डू बना लें। 
  5. और कसे हुए नारियल को ऊपर से लपेट दें। 
  6. ठंडा करके इसे जार में रख दें।  


                                            Recipe in English

Ingredients :-


  1. Dedicated coconut/ coconut powder 2/1/2 cup
  2. Condensed milk 1 cup
  3. Chopped Almonds 2  tbsp
  4. Chopped raisins 2  tbsp
  5. Chironji 1 tbsp
  6. Grated mawa 2 tbsp
  7. Desi ghee 2 tbsp
  8. Khas sharbat syrap/ Vetiver syrup 1 tbsp
  9. Cardamom powder 1 tsp
  10. Coconut powder for rolling





Method :-





  1. Heat a pan and dry roast the coconut powder remove from the pan.
  2. Add condensed milk in the same pan stir 2 to 3 minutes continuously. Now add roasted coconut powder and mix well.
  3. Cook it for two or three minutes more then add khas ka sharbat syrup, chopped nuts, cardamom powder, mawa and desi ghee, mix well and cook the mixture for two minutes.
  4. Turn off the gas, cool the mixture slightly then roll the mixture to balls.  
  5. when the laddoos are still warm roll them in dedicated coconut.
  6. store in a airtight jar.


Note :- you can increase the  khas syrup quantity as per your choice .

Friday, August 18, 2017

Chuahre Ka Halwa/ Dry Dates Halwa/ छुहारे का हलवा








                        Chuhara is a very beneficial fruit. It is beneficial in low blood pressure, reduces calcium & if the amount of blood in the body is decreasing then it helps in increasing  blood. Consumption of Chuara by soaking it in milk enhances its benefits and helps to increase the strength of the lungs, which are beneficial for respiratory diseases

 It contains plenty of menages, copper and magnesium, which is very good for bone health.

 Soak 3 Chuare every day and consume with hot water for relief from diseases like hemorrhoids.

The amount of fiber in the Chuara is quite large, so do not consume large quantities at the one time.

 The way we make almond pudding, we can also prepare Chuara pudding which is  quite nutritious and tasty. It is not very difficult to make it.  honey can be used instead of sugar in it, it is very healthy.






छुहारा एक बहुत  फायदेमंद मेवा है जो लो ब्लड प्रेशर में फायदा करता  है,कैल्शियम की कमी  करता है, यदि शरीर में खून की मात्रा कम हो रही हो तो यह रक्त बढ़ाने में सहायक होता है , दूध में भिगो कर देने से इसकी उत्तमता और बढ़ जाती है फेफड़ों की ताकत बढ़ाने में काफी मदद करता है जिन्हें सांस फूलने जैसी बीमारी होती है उनके लिए छुहारा काफी फायदेमंद होता है।

 इसमें मौजूद मेगनीज, कोपर और मैग्नीशियम भरपूर मात्रा में होता है जो की हड्डियों की हेल्थ के लिए बहुत ही बढ़िया है.

यदि हर रोज ३ छुहारे भिगो कर गरम पानी के साथ लिया जाये तो बवासीर जैसे रोगों से भी मुक्ति मिलती।
छुहारे में फाइबर की मात्रा काफी होती है इसलिए अधिक छुहारों का इस्तेमाल एक ही टाइम पर न करें।

 जिस तरह से हम बादाम का हलवा बनाते है उसी तरह छुहारे का हलवा भी बनाया जाता है जो की काफी पौष्टिक और स्वादिष्ट होता है इसे बनाना बहुत मुश्किल भी नहीं होता यूँ तो इसमें चीनी  डालने की जगह शहद का इस्तेमाल किया जाये तो बेहद स्वास्थ्यवर्द्धक होता है।


 Soaking Time :- 8 to 10 hours

 Preparation Time :- 15 minutes

 Cooking Time :- 20 minutes

  Serves :- 6

  Type :- Dessert




                                                                                  सामिग्री :-

  1. छुहारे १/२ किलो 
  2. दूध २५० ग्राम 
  3. बारीक कटे बादाम २ बड़े चम्मच 
  4. बारीक कटे पिस्ते २ बड़े चम्मच 
  5. काजू २ बड़े चम्मच 
  6. शहद २ बड़े चम्मच 
  7. देशी घी १/२ कप 
  8. देशी घी १ छोटा चम्मच 
  9. इलाइची पाउडर १ छोटा चम्मच 
  10. गुलाब पत्ती और कटे हुए मेवा सजाने के लिए 




                                                                           विधि :-


  1. सबसे पहले छुहारे को धोकर २५० ग्राम दूध में भिगो कर ८ से १० घंटे के लिए रख दें। 
  2. अब इनको दूध से निकाल कर बीज निकालें और मिक्सी में दरदरा कर लें। 
  3. एक कढ़ाही में १ छोटा चम्मच घी डालकर काजू ताल लें अगर टुकड़े बड़े हैं तो काट लें। 
  4. अब इसी कढ़ाही में बाकि का घी डालें और छुहारे की पेस्ट को डालकर भूनें जब तक हल्का गुलाबी न हो जाये। 
  5. अब इसमें बचा हुआ दूध डालकर अच्छी तरह से मिलाकर ५ मिनट के लिए लगातार चलाते हुए पका लें। 
  6. अब इसमें मेवा, इलाइची पाउडर और शहद डालकर एक बार अच्छे से मिलाकर २ मिनट के लिए चलाते हुए पका कर गैस बंद कर दें। 
  7. गुलाब की पत्ती और मेवा से सजा कर गरम या ठंडा परोसें।








                                                             Recipe In English 



                                                                  Ingredients :- 


  1. Chuhara 1/2 kg
  2. Milk 250 grams
  3. Chopped almonds 2 tbsp
  4. Chopped pistachio 2 tbsp
  5. Chestnuts 2 tbsp
  6. Honey 2 tbsp
  7. Clarified butter/ Ghee 1/2  cup
  8. Clarified Butter/ Ghee 1 tsp
  9. Green cardamom powder 1 tsp
  10. Rose petal  and nuts for garnish



                                                               Method :-

 

 

 


  1. Soak the Chuhara in 250 grams milk for 8 to 10 hours. keep out them, keep the remaining milk aside. 
  2. Now remove the seeds and coarsely grind into mixer grinder.
  3. Heat 1 tsp ghee and fry cashew nuts keep aside.
  4. Heat ghee in the same pan or kadhahi add grinned chuhara till it becomes light golden,  Keep stirring continuously.  Add remaining  milk and mix well, Cook for 5 minutes
  5. Add chopped almonds, pistachio, cashew nuts, honey and cardamom powder mix well.
  6. Cook for two three minutes more and switch off the gas.
  7. Garnish with nuts and Rose petals serve hot or chill.



Note :- you can store it for 15 days.

नोट :- आप इसे बनाकर फ्रिज में १५ दिनों तक स्टोर कर सकते हैं।

Sunday, July 23, 2017

Karonde Aur Hari Mirch ki Sabji/ करोंदे और हरी मिर्च की सब्जी



Actually, the Karonda tree looks like a chandelier,  the taste of the small berry is sour, It is used to make pickle, chutney, vegetable and cloves. Karonda is a seasonal fruit which is found in most of July and August, Some people keep it to make pickle. But karonda  and green chillies sabji is very tasty that best goes with besan ki roti,  and is very easy to make or does not require too much material. Cutting it and removing the seeds is a bit difficult, but its vegetable and  pickles is delicious.

Karonda is also considered to be beneficial for health, it is helpful in calming the pitta, as well as its use is believed to increase appetite.



असल में करोंदा का पेड़ एक झाड़ की तरह ही लगता है, छोटे - छोटे करोंदे के फल का स्वाद खट्टा होता है, इसका उपयोग अचार, चटनी, सब्जी और लौंजी बनाने में किया जाता है. करोंदा एक मौसमी फल है जो की अधिकतर जुलाई, अगस्त में मिलता है, अधिकतर लोग इसी समय इसका अचार बना कर रख लेते हैं. लेकिन करोंदे और हरी मिर्च की सब्जी बेसन की रोटी के साथ बेहद स्वादिष्ट लगती है, इसे बनाना बहुत ही आसान है और न ही इसमें बहुत अधिक सामिग्री की आवश्यकता होती है। इसे काटना और बीज निकलना थोड़ा सा मुश्किल तो होता है पर इसकी सब्जी, अचार काफी अच्छे लगते हैं।

करोंदा स्वास्थ्य के लिए भी काफी लाभदायी माना गया है, यह पित्त शांत करने में सहायक होता है, साथ ही इसके प्रयोग से भूख भी बढ़ती है ऐसा माना जाता है।


Preparation Time :- 45 minutes

Cooking Time :- 15 minutes

Serves :- 6 

Taste :-  Spicy, Tangy




सामिग्री :-


  1. करोंदे १/२ किलो 
  2. हरी मिर्च १०० ग्राम 
  3. बारीक कटी प्याज़ २ बड़े चम्मच 
  4. बारीक कटी अदरक १ बड़ा चम्मच 
  5. नमक स्वादानुसार 
  6. लाल मिर्च पाउडर १ छोटा चम्मच 
  7. हल्दी पाउडर १ बड़ा चम्मच 
  8. धनिया पाउडर २ बड़े चम्मच 
  9. सौंफ पाउडर २  बड़े चम्मच 
  10. अमचूर पाउडर १ बड़ा चम्मच 
  11. नीबू का रस १ बड़ा चम्मच 
  12. मेथी दाना १ बड़ा चम्मच 
  13. तेल २ बड़े चम्मच


बनाने की विधि :- 


  1. सबसे पहले करोंदों को धोकर बीच से दो भाग में काट लें अब इसके बीज निकाल लें। 
  2. हरी मिर्च को भी धोकर २ भाग में काट लें। 
  3. कढ़ाही में तेल गरम करें और मेथी दाना चटका लें, अदरक और प्याज़ को डालकर  गुलाबी होने तक भून लें। 
  4. अब हल्दी पाउडर, धनिया पाउडर और लाल मिर्च पाउडर को डालकर चलाते हुए दो मिनट के लिए पका लें। 
  5. करोंदे, हरी मिर्च और नमक डालकर अच्छी तरह से मसालों के साथ मिला लें, ढक्कन लगाकर धीमी आंच पर पांच मिनट के लिए पका लें। 
  6. अब ढक्क्न खोलकर इसमें नीबू का रस, अमचूर पाउडर मिलाएं, अच्छी तरह से मिलाकर दो मिनट और पका लें। 
  7. गैस बंद करें। 
  8. गरमागरम पराठे, चपाती या फिर दाल चावल के साथ सर्व करें। 



                                          

                                                Recipe in English


Ingredients :-


  1. Karonde 250 grams
  2. Green chili/ Hari mirch 100 gm
  3. Fine chopped onion 2 tbsp
  4. Fine chopped ginger 1 tbsp
  5. Salt as per taste or 2 tsp
  6. Red chili powder 1 tsp
  7. Turmeric powder 1 tbsp
  8. Coriander powder 2 tbsp
  9. Fennel powder 2 tbsp
  10. Dry mango powder/ Amchoor powder 1 tbsp
  11. Lemon juice 1 tbsp
  12. Methi dana/ Fenugreek seeds  1 tbsp
  13. Oil 2 tbsp 





Method :-



  1. Wash, cut into two half then remove the seeds.
  2. Wash and cut into two the green chili.
  3. Now heat the oil in a pan, crackle the methi dana then add Ginger and Onion fry till the onion becomes light golden.
  4. Add  turmeric, coriander, red chili powder cook for 2 minutes, keep stirring.
  5. Now add karonde and hari mirch mix well add salt, cover and cook on low heat for 5 minutes.
  6. Open the lid add fennel powder, dry mango powder and lemon juice, give it to a nice stir mix well.
  7. Switch off the gas. 
  8. Serve hot with chapati, paratha or dal chawal.




Sunday, July 2, 2017

Aloo Mutton Masala/ Spicy Curried Mutton Maslaa/ आलू मटन मसाला






Potato Mutton Masala is the recipe of mutton made in the native manner, which is cooked with spices, oil, ginger, garlic paste and onion paste, and then add fried onion, potatoes and cook it completely. This recipe does not require tomatoes, yogurt or any additional ingredients. It is served with rice or chapati as well Algae) Onion Lemon Salad is served. As it is cooked on low flame its taste is enhanced. You can also prepare it for any party, along with tawa bread or tandoori bread can be served.




आलू मटन मसाला देशी तरीके से बनाये जाने वाले मटन की रेसिपी है जिसे सारे मसाले, तेल, अदरक, लहसुन की पेस्ट और प्याज़ की पेस्ट के साथ धीमी आंच पकाया जाता है और फिर इसमें तली हुई प्याज़, आलू को डालकर पूरी तरह से पक जाने तक बनाया जाता है, इस रेसिपी में टमाटर, दही या और कोई अतिरिक्त सामिग्री की आवश्यकता नहीं होती है. इसे चावल या फिर चपाती के साथ परोसा जाता है साथ में अल्गजा )प्याज़ नीबू की सलाद) को परोसा जाता है। धीमी आंच पर पकाये जाने के कारण इसका स्वाद दोगुना हो जाता है। आप इसे किसी पार्टी के लिए भी तैयार कर सकते हैं साथ में तवा रोटी या फिर तंदूरी रोटी सर्व  की जा सकती है।  

 

Preparation time:- 20 minutes

Cooking time:- 45 minutes

Serves:- 4 




 सामिग्री:-

  1. मटन १ किलो 
  2. बड़े साइज के आलू  २ नग 
  3. अदरक, लहसुन की पेस्ट २ बड़े चम्मच 
  4. प्याज़ की पेस्ट ४ बड़े चम्मच 
  5. स्लाइस की हुई प्याज़ १ कप 
  6. नमक स्वादानुसार 
  7. लाल मिर्च पाउडर १/१/२ बड़े चम्मच 
  8. हल्दी पाउडर १ बड़ा चम्मच 
  9. धनिया पाउडर २ बड़े चम्मच 
  10. कश्मीरी लाल मिर्च पाउडर १ छोटा चम्मच 
  11. लौंग ६ नग 
  12. दालचीनी १ स्टिक 
  13. जावित्री १ छोटा टुकड़ा 
  14. तेज़ पत्ता २ नग 
  15. बड़ी इलाइची २ नग 
  16. छोटी इलाइची ६ नग 
  17. जीरा १ बड़ा चम्मच 
  18. देशी घी २ बड़े चम्मच 
  19. तेल ४ बड़े चम्मच 
  20. धनिया पत्ती सजाने के लिए




विधि:-




  1. मटन को अच्छी तरह से धोकर कुकर में तेल, प्याज़, अदरक, लहसुन की पेस्ट, नमक, लाल मिर्च पाउडर, हल्दी पाउडर, धनिया पाउडर, जावित्री, तेज़ पत्ता, दालचीनी, बड़ी इलाइची, छोटी इलाइची, लौंग, जीरा और १/२ कप पानी के साथ चढ़ा दें।  
  2. सारे मसालों को अच्छी तरह से एकसाथ मिलाकर धीमी आंच पर ढककर के लिए बीच-बीच में चलाते हुए कम से कम २० मिनट के लिए पका लें। 
  3. एक बर्तन में घी गरम करके इसमें प्याज़ को सुनहरा तल कर निकाल लें।  
  4. आलू को छीलकर धो लें और बीच से दो हिस्सों में काट लें। 
  5. अब ढक्क्न हटा कर इसमें आलू, तली प्याज़, कश्मीरी मिर्च डालें अच्छी तरह से मिला लें डेढ़ गिलास पानी डालकर मटन को गल जाने तक पका कर गैस बंद कर दें। 
  6. धनिया पत्ती से सजा कर गरमागरम चपाती, चावल या पराठों के साथ परोसें।  




                                                       Recipe In English




Ingredients :-


  1. Mutton 1 kg
  2. Large size potato 2  nos.
  3. Ginger, Garlic paste 2 tbsp
  4. Onion paste 4 tbsp
  5. Slice onion 1 cup
  6. Salt to taste or 1 tbsp
  7. Red chili powder 1/1/2  tbsp or to taste
  8. Kashmiri red chili powder 1 tsp
  9. Turmeric powder 1 tbsp
  10. Coriander powder 2 tbsp
  11. Cloves 6 nos.
  12. Cinnamon  1 stick
  13. Mace 1 small piece 
  14. Bay leaf 2 nos.
  15. Cumin seeds 1 tbsp
  16. Black cardamom 2 nos.
  17. Green cardamom 6 nos.
  18. Desi ghee 2 tbsp
  19. Mustard oil 4 tbsp
  20. Coriander for garnish 


Method:-

  1. Wash the mutton then put it in a pressure cooker. Add salt, red chili powder, turmeric powder, coriander powder, ginger-garlic paste, cinnamon, clove, mace, black cardamom, green cardamom, cumin seeds and oil. Stir and mix all the ingredients together.
  2. Simmer the heat cover and cook the mutton for 20 minutes, stir occasionally.
  3. Heat ghee in a pan and fry the sliced onion till golden. Keep aside.
  4. Now open the lid and add potato, fried onion and kashmiri red chili powder. Mix well and stir continuously. Cook for 5 minutes then add 1/1 /2 glass water and cook for 10 minutes on medium heat.
  5. Switch off the gas, Garnish with coriander leaves and serve hot with chapati, rice or parantha.




algaja

Tuesday, June 13, 2017

sattu drink/ sattu ka meetha sharbat/ सत्तू का मीठा शरबत



Sattu sherbet is very beneficial in the summer, there was a time when these kinds of cold drinks were not available, then in the houses sattu, jaggery, or only sugar and lemon juice were drunk and in summer the most beneficial mango panna was given to the guests, but nowadays, different kinds of drinks are found in the market, due to which the trend of these traditional drinks has decreased slightly.

Sattu is a healthy summer drink. which is made from sattu, sugar syrup and flavored with rose water or kevra water. rose water or kevra water is optional.
Sattu is prepated by dry roasting grains or grams, mainly barley (with skiin) or bengal gram, the dry powder is prepared in various ways as a principal or secondary ingredient of dishes.


सत्तू का शर्बत गर्मियों में बहुत ही फायदेमंद होता है, एक समय था जब ये तरह- तरह के कोल्ड ड्रिंक्स नहीं मिलते थे तब घरों में सत्तू, गुड़, या फिर केवल चीनी और नीबू का शरबत ही पिया जाता था और साथ ही गर्मियों सबसे अधिक फायदेमंद आम पन्ना मेहमानों को दिया जाता था पर आजकल आसानी से तरह- तरह के मन लुभाने वाले ड्रिंक्स बाजार में मिल जाते है जिनके कारण इन पारम्परिक ड्रिंक्स का चलन थोड़ा कम हो गया है।
सत्तू जौ और चने को भून कर फिर चक्की में पीस कर बनाया जाता है कभी- कभी इसे केवल चने से ही बनाया जाता है पर उसमें इतना स्वाद नहीं आता।  सत्तू से न केवल ड्रिंक्स ही बनायीं जाती हैं अपितु इससे कचौड़ी, पराठा और बिहार की प्रसिद्ध लिट्टी भी बनायीं जाती है।



Preparation time:-10 minutes
Cooking time:- 15 minutes
Serve :- 4 




सामिग्री:-


  1. सत्तू पाउडर ८ बड़े चम्मच 
  2. शुगर सिरप १ कप 
  3. ठंडा पानी १ लिटिर 
  4. गुलाब जल १ बड़ा चम्मच 
  5. गुलाब की पत्ती सजाने के लिए 
  6. आइस 




बनाने की विधि:-


  1. सत्तू और चीनी के मिश्रण को एक बड़े बर्तन में अच्छी तरह से चलाकर मिला लें और इसमें गुलाब जल के साथ ठंडा पानी मिला लें। 
  2. अब ग्लास में पहले बर्फ डालें फिर सामान मात्रा में शरबत के एक - एक ग्लास में डालें। 
  3. ऊपर से गुलाब पत्ती से सजाकर ठंडा परोसें। 
  4. परोसने से पहले एक बार फिर से अच्छी तरह से चला दें। 









Ingredients :-


  1. Sattu powder 8 tbsp
  2. Chilled water 1 litter
  3. Sugar syrup 1 up or to taste
  4. Rose water 1 tbsp
  5. Rose petal for garnish
  6. Crushed ice 


Method:-



  1. Take sattu powder and water in a large bowl or jug, stir and mix well.
  2. Now add chilled water, rose water again mix well.
  3. Pour the crushed ice in serving glasses, then pour the mixture equally in each glass.
  4. Garnish with rose petal serve chilled. mix again before serving.



नोट:- सर्व करने से पहले अच्छी तरह से मिला जरूर लें अन्यथा सत्तू नीचे बैठ जायेगा और स्वाद बिगड़ जायेगा। 

Note :- Do mix well before serving, otherwise the sattu will sit down and the taste will get spoiled.