Pageviews past week

Thursday, November 3, 2016

ख्याल सेहत का मिनटों में





यूँ तो केला का स्वाद मीठा होता है पर शुगर लेवल कम करने में केला बेहद सहायक होता है , केले में  पाया जाने वाला स्टार्च इसनुलिन की संवेदन शीलता को बढ़ाने में अत्यधिक सहायक है साथ वजन कम करने में भी सहायक होता है यह एक मिथ है की केला डाइबिटीज़ के मरीजों को नहीं खाना चाहिए ऐसा नहीं है अध्ध्यनों में पाया गया है की केला शुगर के मरीजों के लिए एक उत्तम फल है और इसके सेवन से टाइप २ की डाइबिटीज़ पर नियंत्रण भी किया जा सकता है । सही तरीके से और सही मात्रा में केले का सेवन शुगर लेवल को नियंत्रित करने में काफी सहायक है । 

  1. केले में पाए जाने वाले पौष्टिक तत्व और इसके फायदे --
  2. केले में पानी की मात्रा ६४.३ प्रतिशत है । 
  3. केले में प्रोटीन की मात्रा १.३ प्रतिशत है । 
  4. कार्बोहाइट्रेड की मात्रा २४. ७ और साथ ही फैट की मात्रा ८.३ है । 
  5. केले में थाइमिन, नियासिन, और फोलिक एसिड पार्यप्त मात्रा में होता है । 
  6. इसके अतिरिक्त केले में विटामिन ए और बी भी काफी मात्रा में होता है । 
  7. इसमें पाया जाने वाला पोटैशियम ब्लड प्रेशर के मरीज के लिए काफी लाभदायक होता है । 
  8. इसमें विटामिन बी-६ और विटामिन बी- १२ और मैग्नेशियम, लुइटेन शुगर के मरीज के लिए बेहद लाभदायी होता है । लयूटन और मैग्निशयम ऐंटीऑक्सिडेंट हैं जो मानव शरीर और मेटाबॉलिज्म को दुरुस्त रखता है । 
  9. केले में काफी मात्रा में फाइबर पाया जाता है ।
  10. अल्सर के लिए केला रामबाण का काम करता है ।  
  11. आयरन की मात्रा अधिक होने के कारण खून की कमी को दूर करने में सहायक होता है । 
  12. इसके साथ ही केले का सेवन शरीर को चुस्त रखता है और तनाव को दूर करता है । 
  13. छोटे बच्चों को दूध में फेंट कर या पीस कर देने से उनका विकास अच्छे से होता है साथ ही दुबलापन भी दूर करता है । 
  14. एक या दो पीस केले को शहद के साथ मिलकर देने से सीने के दर्द में राहत मिलती है ।
  15. केला खाने से शुगर नहीं बढ़ती अतः शुगर के मरीज इसका सेवन उचित मात्रा में कर सकते है 

शुगर क्या है ---
डायबिटीज या शुगर या मधुमेह यूँ तो वंशानुगत बीमारी मानी गयी है यानी की यदि आपके माता या पिता में से किसी को भी मधुमेह है तो आपको इस बीमारी के होने का खतरा अधिक रहता है परंतु आज का लाइफस्टाइल भी इस बीमारी का प्रमुख कारण बनता जा रहा है,  जब पैंक्रियाज नामक ग्लाइंड  शरीर में इंसुलिन बनाना कम कर देता है या बंद कर देता है, तो यह बीमारी हो जाती है। इंसुलिन ब्लड में ग्लूकोज को कंट्रोल करने में मदद करता है। डायबीटीज खास तौर से दो तरह की होती है- 
१- इसमें इन्सुलिन हार्मोन बनना लगभग बिलकुल ही बंद हो जाता है और ऐसे में शरीर में ग्लूकोज़ की बढ़ी मात्रा पर कंट्रोल करने के लिए इन्सुलिन का इंजेक्शन लेने की आवश्यकता पड़ती है । 
२- इसमें इन्सुलिन बनता तो है पर कम मात्रा में और जिसके कारण पेनिक्रियाज़ सही ढंग से काम नहीं करते और जिसे दवा से नियंत्रित किया जा सकता है । 
आइये जानते हैं की मधुमेह के कारण क्या है ----
१. आज के हिसाब से देखें तो डाइबिटीज़ होने का मुख्य कारण खानपान और रहन- सहन है । 
२. यदि पहले परिवार में किसी को शुगर हुई है तो यह खतरा अधिक बढ़ जाता है । 
३. अत्यधिक तनाव और रक्तचाप । 
४. मोटापा और व्यायाम की कमी । 
जानते हैं इसके प्रमुख लक्षण क्या हैं ------

  1. मुख्य कारण है लगातर वजन का बढ़ते जाना । 
  2. आँखों में रौशनी की कमी का हो जाना । 
  3. बार- बार पेशाब आना । 
  4. हर समय कमजोरी लगना और नींद आती रहना । 
  5. चोट का जल्दी ठीक न होना । 
  6. भूख अधिक लगना । 
अब क्या इसका इलाज सम्भव है यह एक बड़ा प्रश्न है और क्या मधुमेह का टेस्ट कराने के लिए  हर वक़्त डॉक्टर के पास ही जाना पड़ेगा, हाँ इसका इलाज बिलकुल सम्भव है और साथ आप अपना शुगर लेवल न केवल साप्ताहिक, पाक्षिक या मासिक अपितु हर रोज़ आसानी से घर पर ही चेक कर सकते हैं और साथ ही जरूरी दवा के लिए सिर्फ एक बार ही डॉक्टर की सलाह लेकर निश्चिन्त हो सकते है क्योंकि अब आपके लिए  आ गया है, Alere Glucometer  यह एक ऐसी मशीन है जिसे आप आसानी से घर बैठे ही 
 snapdeal और flipkart के द्वारा online मंगा सकते है और इससे अपना शुगर केवल चेक कर सकते हैं । परिवार में किसी को भी यदि शुगर है चाहे वो बुजुर्ग ही क्यों न हों वो भी आसानी से अपना शुगर लेवल चेक कर सकते हैं ।
 Alere Glucometer  किस तरह से और क्या काम करती है --
यह आपके शुगर के लेवल को चेक करने के लिए  शुद्धता के आधार पर पूर्ण रूप से प्रमाणित एक छोटा सा उपकरण है जो अधिक काम किये बिना ही घर पर आपको अपना शुगर लेवल चेक करने के लिए मदद करता है ।
इसमें एक छोटी सी मीटर के रूप में मशीन होती है, एक आपके खून को निकालने के लिए सिरिंज जैसा उपकरण होता है ।और साथ ही स्ट्रिप्स  जिन्हें मशीन में इन्सर्ट करने के बाद आपका शुगर लेवल मालूम चल जाता है ।
इसकी स्ट्रिप्स स्वयं ही निकल जाती और चेक करने वाले को हाथ नहीं लगाना पड़ता है जिससे चेक करने वाले को किसी भी तरह का इन्फेक्शन होने का खतरा भी नहीं रहता है ।

इससे अपना शुगर लेवल चेक करना बिलकुल मुशिकल नहीं है आप नीचे दिए चित्रो में देख सकते है की कितनी आसानी से सिर्फ ३ मिनट के अंदर आपको अपना शुगर लेवल मालूम चल जायेगा ।  आसानी से लैब जैसी सुविधा देने वाला उपकरण -


                                             
केवल ५ सेकंड के भीतर ही आपको आपका शुगर लेवल पता चल जायेगा ।
चूँकि इसमें ऑटोमेटिक स्ट्रिप इजेक्टर है जिससे इससे इसकी स्ट्रिप स्वयं ही निकल जाएगी और आपको हाथ लगाने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी, इस तरह किसी इन्फेक्शन का डर नहीं रहता है और प्रोयगकर्ता पूर्ण रूप से सुरक्षित रहता है
इसकी  स्ट्रिप्स  ९९.९ प्रतिशत गोल्ड प्लेटेड है, जिससे कि जब आप टेस्ट  करेंगे तब जिस तरह से आप लैब में टेस्ट कराकर संतुष्ट होते हैं उसी तरह इसका भी रिजल्ट आएगा।
आपकी सुविधा के लिए ऑटोमेटिक कोडेड है ताकि आपको बार- बार स्ट्रिप्स के मुताबिक कोड नहीं बदलना पड़ेगा।
और इसमें ५०० मैमोरी तक रिजल्ट सुरक्षित रहते हैं.
शुध्द प्रमाणित स्ट्रिप्स के साथ यह मशीन आप आसानी से कहीं भी जैसे ऑफिस, सफर अथवा और कहीं भी ले जा सकते हैं और बेफिक्र होकर कहीं भी अपना शुगर लेवल चेक कर सकते हैं । तो आज ही अपने लिए आर्डर कीजिये Alere Glucometer। 

अधिक जानकारी के लिए जाये www.alereg1glucometer.com


Information Source:
·        http://www.onlymyhealth.com/benefits-banana-in-hindi-1346050599

·        http://drblog.in/banana-kela-benefits-in-hindi/