Pageviews past week

Sunday, May 18, 2014

bottle guard raita with tadka/ लौकी का रायता हींग तड़के के साथ

हमारे घर में पहले जब भी रायता बनाया जाता था उसमें हींग और जीरे का  तड़का लगाया जाता था ,मुझे ऐसा लगता है था कि तड़के से रायता शायद अधिक खट्टा हो जाता है ,पर ऐसा नहीं है तड़के वाला रायता और भी अच्छा लगता है आइये आप के साथ शेयर करती हूँ इसकी रेसिपी --------
एक छोटी लौकी के लिए १/२ किलो दही पर्याप्त होगा फिर भी यदि आपको कम लगे तो २ बड़े चम्मच दही बढ़ा सकते हैं ---

सामिग्री--------

  • गाढ़ा दही १/२ किलो 
  • लौकी १ छोटे आकर की 
  • नमक स्वादानुसार 
  • लाल मिर्च पाउडर २ 
  •  भुना जीरा पाउडर २ छोटे चम्मच 
  • जीरा १ छोटा चम्मच 
  • हींग १/२ छोटा चम्मच 
  • हरी मिर्च बारीक कटी १ छोटा चम्मच 
  • हरी धनिया बारीक कटी १ बड़ा चम्मच 
  • घी १ छोटा चम्मच 
  • पुदीना पाउडर १ छोटा चम्मच 
  • दूध २ बड़े चम्मच 

Ingredients --------

  • Thick curd ½ kg
  • Bottle guard small size 1 no
  • Salt to taste
  • Red chili powder 2 tsp
  • Roasted cumin powder 2 tsp
  • Cumin seeds 1 tsp
  • asafetida ½ tsp
  • Chopped green chili 1 tsp
  • Coriander leaves chopped 1 tbsp
  • Ghee 1 tsp
  • Mint powder 1 tsp
  • Milk 2 tbsp  

विधि---------

  • लौकी को छीलकर धो लें और कद्दूकस कर के पानी में १० मिनट के लिए उबाल लें। 
  • दही को अच्छी तरह से फेंट कर इसमें दूध ,नमक,पुदीना पाउडर ,हरी मिर्च और हरा धनिया मिला लें। 
  • लौकी का पानी निचोड़ कर दही में मिला लें। 
  • अब एक तड़का पैन में घी गरम कर लें इसमें हींग,जीरा भूनें और गैस बंद कर दें और फिर लाल मिर्च पाउडर डालें और तुरंत रायते में डाल कर रायते को धक दें। 
  • दाल चावल ,या बिरयानी के साथ और या अपनी पसंद के भरवां पराठों के साथ सर्व करें। 

Method ---------

  • peel wash and grate  the bottle guard,boil in water for 10 minutes
  • whip the curd add milk,salt,mint powder,green chili,coriander.
  • Take out the bottle guard and squeeze the water,mix in curd mixture.
  • Heat the ghee in a tadka pan pop the cumin seeds add asafetida. 
  •  switch off the flame ,add red chili powder

  • Add in raita and cover it
  • Serve with dal-chawal,biryani or stuffed paratha  
नोट----यहाँ दूध मैंने इस लिया डाला है ताकि यदि दही थोड़ा भी खट्टा हो तो उसका खट्टापन कम हो जाये। आप चाहें तो न डालें।