Pageviews past week

Friday, March 1, 2013

sem aur aloo ka achar/ सेम आलू का अचार






मौसम के अचार पराठों के साथ खाने में बहुत अच्छे लगते हैं .जैसे गोभी ,गाजर का अचार, मूली का अचार और सेम आलू का अचार.
सेम आलू का अचार सर्दियों में मेरी पहली पसंद है, यहाँ दिल्ली में तो सफ़ेद सेम आसानी से नहीं मिलती परन्तु लखनऊ, कानपूर व् उत्तर प्रदेश के अन्य शहरों में   आसानी से मिल जाती है, सरिदयों में दाल- चावल के साथ या फिर भरवां पराठों के साथ यह अचार भी उतना ही अच्छा लगता है जितना कि गाजर मूली का अचार या फिर हरी मिर्च का.
इसे बनाने में अधिक समय नहीं लगता और तैयार भी २ से ३ दिनों में हो जाता है पर मौसम के अचार को जल्दी ही ख़त्म करना पड़ता है ये अचार अधिक समय तक टिक नहीं पाते।

Preparation time:-10 minutes

Cooking time :-10 minutes


सामिग्री :-
  1. सफ़ेद वाली सेम १/२ किलो .
  2. छोटे वाले आलू १/२ किलो .
  3. नमक स्वादानुसार
  4. लाल मिर्च पाउडर 4 टी स्पून .
  5. सौंफ पाउडर २ बड़े चम्म्च 
  6. धनिया पाउडर १ बड़ा स्पून .
  7. हल्दी पाउडर १ /१/२  स्पून .
  8. राई  का पाउडर १ बड़ा चम्मच .
  9. सरसों का तेल २ बड़े चम्मच या १ कप .
  10. हींग १/२ टी स्पून .
विधि:-

  1. आलू को धोकर उबालें और छिलका छीलकर रखें, अब सेम की नस निकाल कर पांच मिनट के लिए अलग उबाल लें।
  2. अब एक बड़े बर्तन में सारी सामिग्री एक साथ  मिलाकर जार में रखें .
  3.  अब जार को २  दिन के लिए धूप  में रखें .
  4. अचार खाने के लिए तैयार है .




Ingredients:-


  • White beans/sem fali 1/2 kg
  • Baby potato 1/2 kg
  • Salt 2 tbsp
  • Red chili powder 4 tsp or to taste
  • Coriander powder 1 tbsp
  • Turmeric powder 1/1/2 tsp
  • Mustard powder 1 tbsp
  • Fennel powder 2 tbsp
  • Mustard oil 2 tbsp or 1 cup
  • Heeng 1/2 tsp




Method :-




  • Wash and boil the potatoes then remove the skin keep aside, Wash and remove the strings of the beans then boil in another pan for 10 minutes. 
  • Now spread on to a muslin cloth just because drain the excess water.
  • Take a large mixing bowl put the potatoes, beans mix salt, red chili powder, coriander powder, mustard powder, fennel powder, heeng, turmeric powder and oil mix well as the spices combine with the potato and beans.
  • Put the jar in sun light for two or three days.
  • Pickle is ready for serving.


नोट-----

  • अगर  आलू बड़े है तो बीच से दो भाग में काट लें, अन्यथा पूरे ही रखें। 
  • यदि आपको सफ़ेद सेम न मिल रही हो तो आप हरी सेम से भी बना सकते है तब सेम को बहुत अधिक गलायें नहीं। 
  • अधिक से अधिक १५ से २० दिनों तक ही अचार सुरक्षित रह सकता है यदि इससे अधिक दिनों के लिए रखना हो तो सिरका या फिर एसिटिक एसिड मिला दें।